DA Image
Sunday, November 28, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारकलंक कथा: झाड़ू लगा रही थी दादी, ड्राइवर पोते ने ट्रक से कुचलकर मार डाला, इतनी छोटी-सी थी वजह

कलंक कथा: झाड़ू लगा रही थी दादी, ड्राइवर पोते ने ट्रक से कुचलकर मार डाला, इतनी छोटी-सी थी वजह

एक संवाददाता,मुजफ्फरपुरSudhir Kumar
Sun, 17 Oct 2021 11:02 AM
कलंक कथा: झाड़ू लगा रही थी दादी, ड्राइवर पोते ने ट्रक से कुचलकर मार डाला, इतनी छोटी-सी थी वजह

मुजफ्फरपुर के करजा थाना क्षेत्र के रक्सा गांव में घरेलू विवाद में ट्रक चालक कलियुगी पोते ने दादी को ट्रक से कुचल मौत के घाट उतार दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने ट्रक को जब्त कर पोते दिलीप कुमार को हिरासत में ले लिया। इस संबंध में थानाध्यक्ष मणि भूषण ने बताया कि आरोपी चालक पोते को गिरफ्तार कर लिया गया है।

झाड़ु लगा रही दादी पर चढ़ा दिया ट्रक

रक्सा निवासी राजेश्वर राय के घर में दो दिनों से घरेलू विवाद चल रहा था। राजेश्वर राय का पुत्र दिलीप ट्रक लेकर घर आया था। घरेलू विवाद में वह दादी से गाली-गलौज करने लगा। दादी ने जब मना किया तो गुस्से में आकर दादी को सारे झगड़े की जड़ बताते हुए उसके ऊपर ट्रक चढ़ाकर हत्या कर देने की धमकी दी। इस दौरान दिलीप के पिता पहुंचे और उसे डांटकर भगा दिया। कुछ देर बाद दिलीप ट्रक लेकर पहुंचा और दरवाजे पर झाड़ू लगा रही दादी के ऊपर ट्रक चढ़ा दिया। बुजुर्ग दादी डोमनी देवी की मौके पर ही मौत हो गई। दिलीप के पिता राजेश्वर राय ने मां डोमनी देवी की हत्या का आरोप लगाते हुए करजा थाने में मामला दर्ज कराया है।

हत्प्रभ हैं लोग

पोते के द्वारा दादी की हत्या की खबर आग की तरह फैल गई है। लोग विश्वास नहीं कर रहे कि कोई कैसे अपनी ही दादी की हत्या कर देगा। लोग इस घटना से समझ नहीं पा रहे कि आखिर जो पोता दिन-रात दादी की सेवा किया करता था, वही उसकी हत्या कर देगा। स्थानीय लोग इस घटना से हतप्रभ हैं क्योंकि दिलीप ने दादी के रुप में रिश्ते का कत्ल कर दिया।

अवैध संबंध में था दिलीप, दादी करती थी विरोध

स्थानीय लोगों ने बताया कि दिलीप तीन भाइयों में सबसे छोटा है। उसकी अभी शादी नहीं हुई है। उससे बड़ा दोनों भाई दिल्ली में रहकर चालक का काम करता है। उसका पिता भी अपनी मां से करीब 10-15 वर्षों से अलग रह रहा था। तब से दिलीप ही दादी का खर्चा उठा रहा था। लोगों का कहना है कि वह नशा करता था, लेकिन दादी की सेवा मन से करता था। घटना में ग्रामीणों के मुंह से कई तरह की बातें निकल कर सामने आई हैं। यह भी चर्चा है कि दिलीप का किसी से अवैध संबंध था, जिसकी भनक दादी को लग गई थी। उसे भांडा फूटने का डर था। इसलिए उसने अपनी दादी को ही रास्ते से हटा दिया। हालांकि पुलिस इस बात से इनकार करते हुए पारिवारिक विवाद में हत्या की बात कह रही है। ट्रक हाजीपुर के किसी व्यक्ति की बताई गई है। 
 

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें