ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारतेज रफ्तार कार कंट्रोल नहीं कर सका ड्राइवर, गाड़ी गड्ढ़े में गिरी, भीषण हादसे में तीन की मौत

तेज रफ्तार कार कंट्रोल नहीं कर सका ड्राइवर, गाड़ी गड्ढ़े में गिरी, भीषण हादसे में तीन की मौत

बिहार के जमुई में भीषण कार हादसा होने से कार सवार तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। तेज रफ्तार कार से चालक ने कंट्रोल खो दिया था। इस कारण गाड़ी गड्ढे में जा गिरी। पुलिस ने मृतकों की पहचान कर ली है।

तेज रफ्तार कार कंट्रोल नहीं कर सका ड्राइवर, गाड़ी गड्ढ़े में गिरी, भीषण हादसे में तीन की मौत
jamui car accident
Ratanलाइव हिंदुस्तान,जमुईWed, 12 Jun 2024 11:18 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के जमुई में भीषण कार हादसा में कार सवार तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। मरने वाले सभी लोग पटना के रहने वाले थे। मंगलवार सवेरे सभी लोग पटना जा रहे थे कि तभी चंद्रमंडीह थाना क्षेत्र के अंडीडीह गांव के पास ड्राइवर ने अचानक कार से नियंत्रण खो दिया। इससे कार पलट गई और कार में सवार तीन लोगों की जान चली गई।

 

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर कार को सीधा करवाया

कार एक्सीडेंट होने के बाद आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और उन्होंने पुलिस को घटना के बारे में जानकारी दी। सूचना मिलने पर चंद्रमंडीह थाना के प्रभारी थानाध्यक्ष लक्ष्मण कुमार ने जेसीबी की मदद से कार को सीधा करवाया और तीनों लाशों को पोस्टर्माटम के लिए सदर अस्पताल भेजा। इसके बाद पुलिस आगे की छानबीन में जुट गई। गांव वालों ने बताया कि हादसा इतना जबरदस्त और भयानक था कि गाड़ी के परखच्चे उड़ गए। 

मृतकों की हुई पहचान

कार सवार तीनों मृतक की पहचान पुलिस के द्वारा कर ली गई है। इनकी पहचान नंदन यादव गोरिया टोली पटना, अवधेश यादव विग्रहापुर थाना जनकपुर पटना व संतोष यादव आसमा थाना निंदरगंज नवादा के रुप में हुई है। पुलिस ने घटना की जानकारी मरे हुए तीनों लोगों के परिवार तक फोन के जरिए पहुंचा दी है। 

 

कैसे हुआ इतना भयावह हादसा

कार सवार युवक पटना से देवघर जा रहे थे। इसी बीच चंद्रमंडीह थाना क्षेत्र के चकाई-देवघर मुख्य मार्ग पर अंडीडीह गांव के पास गाड़ी से ड्राइवर ने अपना कंट्रोल खो दिया। बताया जा रहा है कि गाड़ी की रफ्तार इतनी अधिक थी कि गाड़ी अनियंत्रित होकर गड्ढे में जाने से पलट गई । इतने भंयकर हादसे में गाड़ी का पिछला हिस्सा बुरी तरह धस गया था। पहली बार में ही देखने पर अनुमान लगाया जा सकता है कि गाड़ी में कोई जिंदा नहीं बचा होगा।