DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  बिहार में कोरोना की रफ्तार बढ़ने का खतरा, स्टेशन पर जांच से बचने को यूं भाग रहे हैं महाराष्ट्र से आने वाले लोग
बिहार

बिहार में कोरोना की रफ्तार बढ़ने का खतरा, स्टेशन पर जांच से बचने को यूं भाग रहे हैं महाराष्ट्र से आने वाले लोग

लाइव हिंदुस्तान,बक्सरPublished By: Sneha Baluni
Fri, 16 Apr 2021 10:57 PM
बिहार में कोरोना की रफ्तार बढ़ने का खतरा, स्टेशन पर जांच से बचने को यूं भाग रहे हैं महाराष्ट्र से आने वाले लोग

बिहार सरकार ने विभिन्न राज्यों से बिहार लौटने वाले यात्रियों के लिए स्टेशन पर कोरोना टेस्ट करवाना अनिवार्य किया हुआ है। ऐसे में बक्सर जिले में दर्जनों की संख्या में लोग, कुछ छोटे बच्चे के साथ जल्दीबाजी में रेलवे स्टेशन से भागकर निकलते हुए दिखाई देते हैं। इसकी वजह है स्टेशन पर होने वाला कोरोना टेस्ट। हालांकि ये सभी निकलते हुए कैमरे में कैद हो गए हैं। 

एक व्यक्ति के चेहरे पर उस समय घबराहट साफ दिखाई दे रही थी जब वो स्टेशन से बाहर निकल रहा था। इस दौरान उसे एक स्वास्थ्यकर्मी ने रोकते हुए बाहर जाने से पहले कोविड-19 टेस्ट करने को कहा। एक अधिकारी ने कहा, 'यह रोजाना की घटना गई है।' 

 

 

बक्सर के एक स्थानीय निगम पार्षद जय तिवारी ने कहा, 'जब हमने उन्हें जाने से रोका, तो वे बहस करने लगे। घटना के समय स्टेशन पर कोई पुलिसकर्मी नहीं थे। बाद में, एक पुलिसकर्मी आईं और उन्होंने कहा कि वह अकेले होने की वजह से असहाय हैं।'

बता दें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हाल ही में घोषणा की थी कि बिहार के सभी रेलवे स्टेशनों पर परीक्षण की व्यवस्था की गई है ताकि देश के विभिन्न हिस्सों से घर लौट रहे लोगों की स्क्रीनिंग की जा सके।

कोरोना वायरस से प्रभावित मुंबई, पुणे और दिल्ली से ट्रेनों के जरिए रोजाना बड़ी संख्या में प्रवासी पहुंच रहे हैं। ये सभी बेरोजगारी और लॉकडाउन के डर से वापस घर लौट रहे हैं। देश में कोविड-19 मामलों में रिकॉर्ड वृद्धि हो रही है। इससे मुंबई, पुणे और दिल्ली जैसे शहर सबसे ज्यादा प्रभावित हैं।

संबंधित खबरें