DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नीतीश कुमार ने कहा है, अब मुख्यमंत्री पद से मन भर चुका : उपेन्द्र कुशवाहा

उपेन्द्र कुशवाहा

केन्द्रीय राज्य मंत्री रालोसपा प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि बिहार की सत्ता में हिस्सेदारी का समय बीत गया। अब मैं हिस्सेदारी नहीं चाहता। लेकिन पहले क्यों नहीं मिली, इसका जवाब चाहता हूं।  कुशवाहा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ हुए अपने संवादों के बारे में भी बताया। कहा, उन्होंने खुद ही उनसे कहा था कि अब मुख्यमंत्री पद से मन भर चुका है। कुर्सी खाली होने वाली है। 15 साल बहुत होता है। रालोसपा नेता ने कहा कि कोई संतृप्त व्यक्ति कितना काम करेगा आप खुद जान सकते हैं। 

कुशवाहा ने बुधवार को पार्टी के युवा संगठन द्वारा रवींद्र भवन में आयोजित पटेल जयंती समारोह में कहा कि सरदार पटेल जैसी संकल्प शक्ति प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी में है। उनकी पार्टी नरेन्द्र मोदी को दोबारा पीएम बनाने के लिए काम कर रही है और करती रहेगी। वह मजबूती के साथ एनडीए में हैं और रहेंगे। कहा कि गठबंधन को घाटा होने पर उसे शेयर करने की बात होनी चाहिए, लेकिन लाभ होने पर भी उसे शेयर करना चाहिए। ऐसा नहीं हो कि लाभ कोई और ले जाए और घाटा कोई और सहे। जदयू के शामिल होने के बाद एनडीए को बिहार में बैठे-बिठाये सत्ता मिल गई। हमारे दल का भी इस लाभ में कुछ शेयर उस समय बनता था। घाटा सहने के लिए हम तैयार हैं, लेकिन लाभ क्यों नहीं मिला, इसका जवाब चाहिए। हिस्सेदारी का समय अब नहीं रहा। 

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मेरे बड़े भाई हैं। उनको हम जितना जानते हैं, उतना कोई नहीं जानता। वह भी मुझे बखूबी जानते हैं। लिहाजा किसी को बीच में नहीं पड़ना चाहिए। उनकी पार्टी के प्रवक्ता भी बीच में आ जाते हैं। व्यक्तिगत रिश्ते पर टिप्पणी करने वाले नाहक बीच में घसीटे जाएंगे। जनता ने श्री कुमार को पांच साल के लिए चुना है। कोई उन्हें सीएम पद से हटा नहीं सकता, लेकिन अगर वह नहीं चाहेंगे तो उन्हें कोई मुख्यमंत्री बनाये रख भी नहीं सकता। अध्यक्षता हिमांशु पटेल और संचालन अभिषेक झा ने किया। रामबिहारी सिंह, नचिकेता मंडल, भूदेव चौधरी, राजेश यादव और आशुतोष झा ने भी संबोधित किया।

मुजफ्फरपुर बालिका गृहकांड: पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के खिलाफ वारंट जारी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Does not want to share power in Bihar need answer Upendra kushwaha