ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारदिन में डॉक्टरी, रात में लूटपाट; ऐसे पकड़ा गया बिहार का शातिर लूटेरा, सरकार ने रखा था इनाम

दिन में डॉक्टरी, रात में लूटपाट; ऐसे पकड़ा गया बिहार का शातिर लूटेरा, सरकार ने रखा था इनाम

एसएसपी ने बताया कि छोटन पिछले साल चार जुलाई को हुए मीनापुर थाना के गोरीगामा स्थित उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक में 9.43 लाख लूटकांड का आरोपी है। बोचहां में बीते साल कूरियर कंपनी से लूट में भी शामिल था।

दिन में डॉक्टरी, रात में लूटपाट; ऐसे पकड़ा गया बिहार का शातिर लूटेरा, सरकार ने रखा था इनाम
Sudhir Kumarहिंदुस्तान,मुजफ्फरपुरSat, 17 Feb 2024 12:48 PM
ऐप पर पढ़ें

एसटीएफ बिहार और मुजफ्फरपुर जिले की पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए बोचहां थाना क्षेत्र के तुर्की भट्टा के समीप से 50 हजार के इनामी अपराधी डॉक्टर गिरोह के सदस्य कार्तिक कुमार उर्फ कार्तिक राज उर्फ छोटन राज सहित चार को गिरफ्तार किया है। इस दौरान एक अपराधी मौके से फरार हो गया। सभी अपराधी वहां पर डकैती की योजना बना रहे थे। कार्तिक बोचहां थाना के सरवानीचक का रहने वाला है। इसके अलावा चौपार निवासी मो. कैश, बोचहां भगवानपुर निवासी विजय कुमार, धरना टोला निवासी भरत कुमार शामिल हैं।

वहीं कर्णपुर दक्षिणी निवासी अपराधी सुभाष कुमार फरार हो गया। कार्तिक के पास से एक देसी पिस्टल, 13 पुड़िया स्मैक व मोबाइल जब्त किए गए हैं। कैश के पास से 16 पुड़िया स्मैक, एक जिंदा गोली, एक मोबाइल, विजय के पॉकेट से एक चाकू, 11 पुड़िया स्मैक और भरत के पास से 10 पुड़िया स्मैक, एक मोबाइल और एक कार जब्त की गई है। एसएसपी राकेश कुमार ने शुक्रवार को प्रेस वार्ता में बताया कि डॉक्टर गिरोह के चार सदस्य को गिरफ्तार किया गया है। एक फरार हो गया है, जिसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। इसमें विजय कुमार क्वैक है। वह गांव में घूम-घूमकर मरीजों का इलाज करता है। इस बहाने वह घर और संस्थानों की रेकी भी करता था।

यूबीजी बैंक लूट में है आरोपी

एसएसपी ने बताया कि छोटन पिछले साल चार जुलाई को हुए मीनापुर थाना के गोरीगामा स्थित उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक में 9.43 लाख लूटकांड का आरोपी है। इसके अलावा बोचहां में बीते साल 26 जुलाई को कूरियर कंपनी से 1.87 लाख लूटकांड का भी आरोपी रहा है। बोचहां थाने में उसके ऊपर एनडीपीएस एक्ट में भी केस दर्ज है। वहीं मो. कैश भी बोचहां थाने में लूट, एनडीपीएस एक्ट का आरोपी है।

एसएसपी ने बताया कि एसटीएफ को मोबाइल सर्विलांस के माध्यम से अपराधियों के जुटने की सूचना मिली थी। इसके बाद पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंच कर सभी को गिरफ्तार कर लिया। गिरोह के सदस्यों के निशाने पर पेट्रोल पंप और सीएसपी था। पूछताछ में जानकारी मिली है कि गिरोह के सदस्य मोतीपुर और बोचहां में पेट्रोल पंप और सीएसपी में डकैती करने वाले थे। बोचहां थानेदार राकेश कुमार यादव के नेतृत्व में टीम गठित की गई थी।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें