DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लापरवाही: डॉक्टर ने दूसरे मरीज का कर दिया डायलिसिस, होगी कार्रवाई

(Symbolic Image)

मेडिकल कॉलेज अस्पताल के मेडिसिन विभाग में एक और लापरवाही का मामला सामने आया है। डायलिसिस बेड नंबर 34 के मरीज का होना था, लेकिन वहां के स्टॉफ ने 35 नंबर बेड के मरीज का कर दिया। मंगलवार की सुबह ऐसा हुआ। जिस मरीज का डायलिसिस होना था, उसका बुधवार को भी नहीं हो पाया। अस्पताल अधीक्षक ने इसकी पुष्टि करते हुए मामले की जांच कर दोषियों पर कार्रवाई की बात कही है। 

मंगलवार की सुबह बेड नंबर 34 पर भर्ती जगदीशपुर प्रखंड के कोला नारायणपुर गांव निवासी उमेश यादव का डायलिसिस होना था। उसी दिन सुबह करीब 9:50 बजे विभाग का कर्मचारी पहुंचा और वह उमेश के बजाय उसके बगल वाले बेड नंबर 35 पर भर्ती घोषपुर, सबौर निवासी दिनेश तांती (70 वर्ष) को लेकर चला गया। जब दिनेश का डायलिसिस हो गया तो परिजनों ने शोर मचाना शुरू कर दिया। इसके बाद जिम्मेदार इस लापरवाही को छिपाने में लग गये।

चिंतित हैं उमेश के परिजन
उमेश की पत्नी किरण देवी का कहना है कि उसके छोटे-छोटे बच्चे हैं। पति की कमाई से ही घर का खर्च चलता है। किडनी खराब होने के कारण मंगलवार की सुबह पति का डायलिसिस होना था, लेकिन कर दिया बेड नंबर 35 वाले मरीज का। बुधवार का पूरा दिन बीत गया, अभी तक उनके पति का डायलिसिस नहीं किया गया है।

दोषी के खिलाफ करेंगे कार्रवाई: अधीक्षक
मायागंज अस्पताल के अधीक्षक डॉ. आरसी मंडल ने कहा कि मामला सही है। बीएचटी समेत लापरवाही के सभी पहलुओं की जांच होगी। दोषी के खिलाफ हर हाल में कार्रवाई होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Doctor carelessness did Dialysis of other patient in Medical College Hospital Bhagalpur