ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारबिहार में जानलेवा गर्मी; लू लगने से महाविद्यालय के प्रोफेसर की मौत, बीते 24 घंटे में 10 लोगों ने तोड़ा दम

बिहार में जानलेवा गर्मी; लू लगने से महाविद्यालय के प्रोफेसर की मौत, बीते 24 घंटे में 10 लोगों ने तोड़ा दम

बिहार में के भागलुपर जिले में इलाज के दौरान लू लगने से अर्थशास्त्र के प्रोफेसर बिपिन कुमार की मौत हो गई। प्रोफेसर बिपिन एसएसपीएस महाविद्यालय में तैनात थे। और रोजाना सबौर से अप-डाउन करते थे।

बिहार में जानलेवा गर्मी; लू लगने से महाविद्यालय के प्रोफेसर की मौत, बीते 24 घंटे में 10 लोगों ने तोड़ा दम
Sandeepसंवाददाता,बांकाMon, 17 Jun 2024 05:15 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार में भीषण गर्मी जानलेवा हो गई है। बांका जिले के शंभूगंज के एसएसपीएस महाविद्यालय के प्रोफ़ेसर बिपिन कुमार सिंह (55) की मौत भागलपुर अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई । प्रोफेसर की पत्नी कोनिका देवी , भाई छोटू कुमार सहित अन्य परिजनों ने बताया कि तीन दिन पूर्व वे एसएसपीएस महाविद्यालय आए थे । रास्ते में ही लू के शिकार हो गए थे, जिसका इलाज भागलपुर में चल रहा था । सोमवार की सुबह अचानक बेचैनी महसूस हुई और फिर सांसें थम गई । 

घटना की सूचना मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया । करसोप गांव में भी मातमी सन्नाटा पसर गया । बिपिन कुमार शंभूगंज बाजार स्थित करसोप गांव के रहने वाले हैं। बीते कई वर्षों से पत्नी और बच्चों के साथ भागलपुर के सबौर में रहकर बच्चों को पढ़ाई कराने का काम करते थे । बड़ा पुत्र अमन कुमार इंटर एवं छोटा आर्यन नौवीं में पढ़ता है। वे एसएसपीएस महाविद्यालय में अर्थशात्र के व्याख्याता थे। सबौर से ही महाविद्यालय आना जाना करते थे । अचानक इस घटना से स्वजनों पर गमों का पहाड़ टूट पड़ा है। 

यह भी पढ़िए- बिहार में जानलेवा हुई गर्मी, रविवार को हीटवेव की चपेट में आए 10 लोगों की मौत; आज 9 जिलों में रेड अलर्ट

सोमवार की दोपहर बिपिन के शव को करसोप गांव लाया गया । इससे पहले शव को कुछ देर के लिए महाविद्यालय परिसर लाया । जहां सभी कर्मियों ने अंतिम दर्शन किए। प्राचार्य डाक्टर योगेश कुमार सिंह ने बताया कि बिपिन कुमार का असामयिक मृत्यु से महाविद्यालय परिवार के लिए अपूर्णीय क्षति है । इसके अलावा प्रोफेसर अशोक कुमार सिंह, दिवाकर पंजिकार , केडी सिंह , दीपक सिंह , पुरेंद्र नारायण सिंह सहित अन्य ने शोक व्यक्त की है।