ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारजेडीयू में दलित मंत्री Vs महादलित मंत्री? एक के भगवान हैं नीतीश, दूसरे से प्रेम करते हैं सीएम

जेडीयू में दलित मंत्री Vs महादलित मंत्री? एक के भगवान हैं नीतीश, दूसरे से प्रेम करते हैं सीएम

नीतीश सरकार में जेडीयू कोटे से मंत्री रत्नेश सदा और अशोक चौधरी के बाद तनातनी की चर्चा हो रही है। इनमें से एक दलित और दूसरे महादलित समाज से आते हैं। दोनों ही नीतीश के करीबी माने जाते हैं।

जेडीयू में दलित मंत्री Vs महादलित मंत्री? एक के भगवान हैं नीतीश, दूसरे से प्रेम करते हैं सीएम
Jayesh Jetawatलाइव हिन्दुस्तान,पटनाWed, 29 Nov 2023 04:10 PM
ऐप पर पढ़ें

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू में दो मंत्रियों के बीच घमासान छिड़ गया है। इनमें से अशोक चौधरी दलित हैं तो दूसरे रत्नेश सदा महादलित समाज से आते हैं। यह विवाद जेडीयू द्वारा 26 नवंबर को आयोजित भीम संसद के बाद हुआ है। रत्नेश सदा का एक ऑडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वे अपने एक कार्यकर्ता से अशोक चौधरी का पुतला जलाने की बात तक कह रहे हैं। खास बात ये है कि दोनों ही नेता सीएम नीतीश के करीबी माने जाते हैं। रत्नेश सदा को जब बिहार कैबिनेट में जगह मिली थी तब उन्होंने कहा था कि नीतीश कुमार उनके लिए भगवान हैं। वहीं, अशोक चौधरी को एक बार नीतीश ने गले लगाकर कहा था कि वे उनसे प्रेम करते हैं।

जेडीयू ने 26 नवंबर को पटना के वेटनरी कॉलेज मैदान में भीम संसद का आयोजन किया था। इसमें राज्यभर से दलित एवं महादलित समाज के लोगों की भीड़ जुटाई गई थी। भीम संसद की तैयारी से लेकर कार्यक्रम के आयोजन तक सभी जगह अशोक चौधरी का चेहरा आगे रहा। जेडीयू के पोस्टरों में भी मंत्री अशोक चौधरी का फोटो नीतीश कुमार के साथ नजर आया। वहीं, रत्नेश सदा के फोटो को पोस्टरों में जगह नहीं दी गई, सिर्फ उनका नाम ही नजर आया।

पटना में भीम संसद के दौरान जब मंत्री रत्नेश सदा मंच से संबोधित कर रहे थे। तब वे नीतीश कुमार से कुछ मांग करने लगे। तभी अशोक चौधरी उनके पास पहुंचे और उन्हें अपना भाषण तुरंत खत्म करने के लिए कह दिया। फिर माइक से हटाकर उन्हें साइड में बैठा दिया गया। उस समय इस पर इतना बवाल नहीं हुआ, लेकिन अब एक ऑडियो वायरल होने के बाद इस पर जेडीयू में घमासान छिड़ गया है।

क्या है वायरल ऑडियो में?
सोशल मीडिया पर कथित रूप से एक ऑडियो वायरल हो रहा है। इसमें एक कार्यकर्ता मंत्री रत्नेश सदा से कह रहा है कि भीम संसद में उनके साथ जो व्यवहार हुआ, उससे बहुत तकलीफ हुई है। मंत्री सदा अपने समर्थक से कहते हुए नजर आ रहे हैं कि अगर तकलीफ हुई है तो अशोक चौधरी का पुतला जलाओ और विरोध करो। लाइव हिन्दुस्तान इस वायरल ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है। मगर इससे सियासत गर्मा गई है। जेडीयू में दलित और महादलित समाज के मंत्रियों के बीच तनातनी की चर्चा हो रही है।

भीम संसद के बाद जेडीयू में बवाल, रत्नेश सदा ने कहा अशोक चौधरी का पुतला जलाओ

नीतीश ने मंच से रत्नेश सदा को कहा- तोरा मंत्री बनाए...
पटना में आयोजित भीम संसद के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंच से संबोधित करते हुए मंत्री रत्नेश सदा को झाड़ दिया था। भाषण देते हुए उन्होंने पीछे की ओर देखा। फिर रत्नेश सदा से कहा कि तोरा हम मंत्री बनाए, जानबे नहीं करते हो, बैठो। हिंदुस्तान आवाम मोर्चा के सुप्रीमो जीतनराम मांझी ने इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए नीतीश कुमार को घेरा और दलित मंत्री के अपमान का आरोप लगाया था।

रत्नेश सदा ने नीतीश को बताया था भगवान
जून 2023 में जब रत्नेश सदा को मांझी के बेटे संतोष सुमन की जगह मंत्री बनाया गया। शपथ ग्रहण समारोह के बाद सदा मीडिया के सामने भावुक हो गए थे। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार उनके लिए भगवान की तरह हैं। वे उनके कबीर और विश्वकर्मा हैं। वह नीतीश कुमार अपने ईष्ट का दूसरा रूप देखते हैं।

अशोक चौधरी से नीतीश बोले- हम इनसे प्रेम करते हैं
पिछले दिनों एक कार्यक्रम से निकल रहे नीतीश कुमार ने अपने साथ मौजूद मंत्री अशोक चौधरी को गले लगा लिया था। सीएम नीतीश ने कहा कि हम इनसे प्रेम करते हैं। इस पर सियासी गलियारों में जमकर चर्चा हुई थी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें