DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  बिहार में कोरोना वेव: गांवों में Covid-19 संक्रमण रोकने के लिए पीएचसी स्तर पर मेडिकल टीम गठित
बिहार

बिहार में कोरोना वेव: गांवों में Covid-19 संक्रमण रोकने के लिए पीएचसी स्तर पर मेडिकल टीम गठित

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरोPublished By: Sunil Abhimanyu
Sat, 20 Mar 2021 08:20 AM
बिहार में कोरोना वेव: गांवों में Covid-19 संक्रमण रोकने के लिए पीएचसी स्तर पर मेडिकल टीम गठित

बिहार के गांवों में कोरोना वायरस के संक्रमण के दूसरे चरण के विस्तार रोकने और संक्रमितों की पहचान कर तत्काल इलाज की सुविधा देने को लेकर प्राथमिक चिकित्सा केंद्र (पीएचसी) स्तर पर मेडिकल टीम का गठन किया गया है। हर टीम में चिकित्सा पदाधिकारी के साथ ही तीन स्वास्थ्य कर्मियों की तैनाती की गई है।

 राज्यभर में प्रखंडस्तर पर फिलहाल 533 पीएचसी हैं। एयरपोर्ट, बस स्टैंड पर कोरोना जांच की कार्रवाई शुरू किए जाने के साथ ही स्वास्थ्य विभाग के निर्देश पर ग्रामीण क्षेत्र में सड़क मार्ग से दूसरे राज्यों से आने वाले कोरोना संक्रमितों की पहचान करने को लेकर यह टीम कार्य करेगी। साथ ही, पंचायतों में आशा और एएनएम द्वारा चिह्नित व्यक्तियों की जांच करने का कार्य करेगी। 

कोविड केयर सेंटर में भर्ती होंगे हल्के गंभीर मरीज 
स्वास्थ्य विभाग के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार जिन संक्रमितों को स्वास्थ्य संबंधी हल्की सी परेशानी होगी, उन्हें कोविड केयर सेंटर में भर्ती कर इलाज किया जाएगा। थोड़े गंभीर मरीज को जिला स्तर पर बनाए गए कोविड केयर हेल्थ सेंटर में भर्ती किया जाएगा। इसके अतिरक्ति ज्यादा गंभीर मरीजों को मेडिकल कॉलेज अस्पताल स्थित कोरोना वार्ड में भर्ती कर इलाज किया जाएगा। 

एंटीजेन किट की पर्याप्त व्यवस्था की गई 
होली को लेकर बिहार लौटने वाले लोगों की कोरोना जांच और उनके संपर्क में आने वालों की कोरोना जांच को लेकर पर्याप्त संख्या में एंटीजेन किट उपलब्ध है। सभी जिलों को इसकी आपूर्ति की गयी है। साथ ही डॉक्टरों की अनुशंसा पर आरटीपीसीआर जांच के भी निर्देश दिए गए हैं।
 
जिलों से जानकारी लेंगे सीएम
कोरोना संक्रमण को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शनिवार को स्वास्थ्य विभाग और सभी जिलों के डीएम के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक करेंगे। इस दौरान सीएम जिलों से विस्तृत जानकारी लेंगे और साथ ही उन्हें दिशा-निर्देश जारी करेंगे। गौरतलब हो कि सीएम प्रतिदिन कोरोना केस की जानकारी लेते हैं और उस पर संबंधित पदाधकारियों से निर्देश देते हैं। इस दौरान देश के कुछ राज्यों में कोरोना के केस में काफी वृद्धि हुई है। बिहार में इसको लेकर सतर्कता और बढ़ा दी गई है। इसी पर सीएम स्वास्थ्य विभाग के आलाधिकारियों के साथ-साथ सभी जिलों के डीएम से बात करेंगे। 

पटना में 29 सरकारी अस्पतालों में कोरोना की जांच
पटना। पटना के 29 सरकारी अस्पतालों में कोरोना की जांच हो रही है। इन केंद्रों पर शुक्रवार से मजिस्ट्रेट तैनात कर दिए गए हैं। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए शुक्रवार को प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने अधिकारियों के साथ बैठक की। आयुक्त ने डीएम को निर्देश दिया कि वे सभी जांच केंद्र पर निगरानी रखें। सभी जगहों पर मजिस्ट्रेट की तैनाती करें। आयुक्त के निर्देश के बाद सभी जांच केंद्र पर शुक्रवार को मजिस्ट्रेट तैनात कर दिए गए। मजिस्ट्रेट से प्रतिदिन का रिपोर्ट ली जाएगी ताकि स्थिति की सही जानकारी हो सके।
 

संबंधित खबरें