ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारबक्सर: PHC परिसर में कचरे के ढेर से मिला कोरोना का टीका, Covishield की पांच वायल मिलने से हड़कंप, DM बोले- दोषियों को मिलेगी सजा

बक्सर: PHC परिसर में कचरे के ढेर से मिला कोरोना का टीका, Covishield की पांच वायल मिलने से हड़कंप, DM बोले- दोषियों को मिलेगी सजा

बिहार के बक्सर जिले के स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) रघुनाथपुर के अस्पताल परिसर में कचरे के ढेर में रविवार को कोरोना वैक्सीन की वायल मिलने से स्वास्थ्य महकमे में अफरातफरी मच गई। अस्पताल...

बक्सर: PHC परिसर में कचरे के ढेर से मिला कोरोना का टीका, Covishield की पांच वायल मिलने से हड़कंप, DM बोले- दोषियों को मिलेगी सजा
Malay Ojhaबक्सर हिन्दुस्तान टीमSun, 23 Jan 2022 08:19 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

बिहार के बक्सर जिले के स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) रघुनाथपुर के अस्पताल परिसर में कचरे के ढेर में रविवार को कोरोना वैक्सीन की वायल मिलने से स्वास्थ्य महकमे में अफरातफरी मच गई। अस्पताल परिसर में जहां कचरा फेंका जाता है, वहां से पांच कोविशील्ड की सील बंद वैक्सीन वायल बरामद की गई है। किसी ने वैक्सीन वायल बिना उपयोग किए ही वहां फेंक दिया था या वैक्सीन वायल कैसे वहां फेंकी गई, इसकी जांच शुरू कर दी गई है।

बताया गया है कि ब्रह्मपुर प्रखंड मुख्यालय का पीएचसी स्तर का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रघुनाथपुर से ही संचालित है। पूरे प्रखंड में वैक्सीन की आपूर्ति कर्मियों के बीच टीकाकरण के लिए यहीं से वैक्सीन दी जाती है। रविवार की सुबह में अस्पताल परिसर में ही जिधर कचरा फेंका जाता है, उधर में ही कोविशिल्ड वैक्सीन की पांच वायल देखी गई। इसके बाद इसकी चर्चा होने लगी और अस्पताल प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल उठाए जाने लगे। इस बारे में अस्पताल के प्रभारी डॉ नागेंद्रनाथ ने बताया कि कोरोना की वैक्सीन वायल बरामद की गई है। लेकिन, कैसे वहां  फेंकी गई या कैसे वहां पर वायल चली गई, इसकी जानकारी अभी नहीं मिल पाई है। सोमवार को एक उच्चस्तरीय टीम इस मामले की जांच के लिए यहां पहुंचेगी। इसके बाद इस पूरे मामले का खुलासा हो पाएगा। 

डीआईओ ने की पहुंचकर मामले की जांच

कूड़े-कचरे से कोरोना वैक्सीन  की सीलबंद वायल मिलने के बाद डीएम अमन समीर के निर्देश पर सीएस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल ही जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ आरके सिंह को रघुनाथपुर अस्पताल में भेजा। अस्पताल में पहुंचकर मामले की प्रारंभिक जांच में जुटे डॉ आरके सिंह ने बताया कि एक साजिश के तहत इसतरह से वैक्सीन को फेंका गया प्रतीत हो रही है। इसमें कुछ निजी लोगों के शामिल होने की संभावना से भी इनकार नहीं किया जा सकता। वैसे, इस मामले की जांच शुरू कर दी गई है। शीघ्र ही इसका खुलासा हो जाएगा। उन्होंने बताया कि इसके बैच नंबर को देखने से पता चल रहा है, ये वायल रघुनाथपुर अस्पताल को आपूर्ति पिछले महीने में की गई थी। अब आगे की जांच के लिए एक तीन सदस्यीय टीम एसीएमओ के नेतृत्व में बनाई गई है, जो कल पुन: जांच कर अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। यह एक गंभीर मामला है। 

रघुनाथपुर के सामुदायिक केंद्र परिसर में वैक्सीन की वायल फेंके जाने की जानकारी मिलते ही सिविल सर्जन को इस मामले की गंभीरता से जांच कराने का आदेश दिया गया है। रिपोर्ट मिलने के बाद जो भी दोषी पाए जाएंगे, उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। -अमन समीर, डीएम , बक्सर। 

epaper