ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारबिहार में 2 घंटे पहले ही लीक हो गए थे सिपाही भर्ती परीक्षा के पेपर, पुलिस को मिल गए हैं सबूत

बिहार में 2 घंटे पहले ही लीक हो गए थे सिपाही भर्ती परीक्षा के पेपर, पुलिस को मिल गए हैं सबूत

बिहार सिपाही भर्ती परीक्षा के पेपर एग्जाम से डेढ़ से 2 घंटे पहले ही लीक हो गए थे। पुलिस को इसके वित्तीय लेनदेन के भी सबूत मिले है। ये जानकारी (EOU) के एडीजी हसनैन खान ने पुलिस मुख्यालय में दी।

बिहार में 2 घंटे पहले ही लीक हो गए थे सिपाही भर्ती परीक्षा के पेपर, पुलिस को मिल गए हैं सबूत
Sandeepहिन्दुस्तान,पटनाTue, 03 Oct 2023 06:28 PM
ऐप पर पढ़ें

धांधली और गड़बड़ी की शिकायतों के बाद बिहार सिपाही भर्ती परीक्षा रद्द कर दी गई है। साथ ही 7 और 15 अक्टूबर को होने वाली परीक्षा भी अगले आदेश तक स्थगित है। वहीं इस मामले पर आर्थिक अपराध ईकाई (EOU) के एडीजी हसनैन खान ने मगंलवार को पुलिस मुख्यालय पर आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि सिपाही भर्ती परीक्षा का पेपर डेढ़ से 2 घंटे पहले ही लीक होने का अंदेशा था। और पुलिस को इसके वित्तीय लेनदेन के भी सबूत मिले है। 

आपको बता दें सिपाही भर्ती परीक्षा से पहले ही राज्य के कई जिलों से पुलिस ने सॉल्वर गैंग के सदस्यों को धर दबोचा था। जिनके पास से हाईटेक डिवाइस, वॉकी-टॉकी, ब्लू टूथ, समेत कई उपकरण बरामद हुए थे। सॉल्वर गैंग के एक सदस्य ने तो ये भी बताया था कि 7 लाख में पेपर की डील हुई है। पुलिस ने आरोपियों के पास से कई अभ्यर्थियों के शिक्षण दस्तावेज समेत कई कागजात बराममद किए थे। वहीं नवादा में भी आज सिपाही भर्ती परीक्षा में फर्जीवाड़ा करने वाले गिरोह के सरगना को धर दबोचा है। पुलिस ने आरोपियों के पास से 4 वॉकी-टॉकी, 5 एंटी जैमर, 2 लैपटॉप, 5 मोबाइल फोन बरामद किए हैं। पुलिस ने नवीन नगर इलाके में छापेमारी की थी। जहां से सिपाही भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी करने वाले गैंग के सरगना समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। 

यह भी पढ़िए:CSBC Constable Exam 2023 Cancelled: दो पालियों में हुई बिहार पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा रद्द, आगामी परीक्षाएं भी स्थगित


सिपाही भर्ती परीक्षा के रद्द होने की सूचना केंद्रीय भर्ती चयन पर्षद (सिपाही भर्ती) के अध्यक्ष एसके सिंघल ने दी। उन्होंने बताया कि कई परीक्षा केंद्रों पर प्रश्नों के उत्तर परीक्षा से पहले ही ही हासिल कर लिए जाने के मामले सामने आने के बाद यह निर्णय लिया गया है।

 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें