ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारराहुल गांधी की भारत न्याय यात्रा की बिहार में किस रास्ते से होगी एंट्री? कांग्रेस ने बताया

राहुल गांधी की भारत न्याय यात्रा की बिहार में किस रास्ते से होगी एंट्री? कांग्रेस ने बताया

कांग्रेस नेताओं के अनुसार राहुल गांधी सीमांचल (किशनगंज) से होते हुए बिहार में प्रवेश कर सकते हैं। दूसरी संभावना यह कि राहुल झारखंड से होते हुए बिहार आएं। उसके लिए अभी दो रास्ते सुझाए जा रहे हैं।

राहुल गांधी की भारत न्याय यात्रा की बिहार में किस रास्ते से होगी एंट्री? कांग्रेस ने बताया
Malay Ojhaएचटी,पटनाWed, 03 Jan 2024 09:17 PM
ऐप पर पढ़ें

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के बाद अब कांग्रेस दूसरी यात्रा निकालने जा रही है। कांग्रेस ने इस यात्रा का नाम भारत न्याय यात्रा रखा है, जो 14 जनवरी से शुरू हो रही है। मणिपुर से मुंबई तक होने वाली यह यात्रा 85 जिलों में 6,200 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। कांग्रेस नेताओं के अनुसार राहुल गांधी सीमांचल (किशनगंज) से होते हुए बिहार में प्रवेश कर सकते हैं। दूसरी संभावना यह कि राहुल झारखंड से होते हुए बिहार आएं। उसके लिए अभी दो रास्ते सुझाए जा रहे हैं। पहले कटिहार और सुपौल के रास्ते मध्य बिहार में प्रवेश कर सकते हैं। कांग्रेस नेताओं का कहना है कि राहुल गांधी उन लोकसभा क्षेत्रों का दौरा करें जहां कांग्रेस के प्रत्याशी मैदान में हों।

वहीं बिहार कांग्रेस बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी (बीपीसीसी) के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि 14 जनवरी से शुरू होने वाली राहुल गांधी की भारत न्याय यात्रा पांच-छह दिनों तक बिहार में रहने की संभावना है। बिहार कांग्रेस अध्यक्ष अखिलेश प्रसाद सिंह और कांग्रेस विधायक दल के नेता शकील अहमद खान भारत न्याय यात्रा की बिहार में अंतिम रूपरेखा तैयार करने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में भाग लेने के लिए बुधवार शाम नई दिल्ली के लिए रवाना हुए। अखिलेश सिंह ने दिल्ली रवाना होने से पहले कहा कि भारत जोड़ो यात्रा-2.0 को अंतिम रूप देने के बाद हर विवरण जनता से साझा किया जाएगा। 

वहीं कांग्रेस विधायक दल के नेता शकील अहमद ने लोकसभा चुनावों से पहले जेडीयू के इंडिया गठबंधन से अलग होने की खबरों को बेबुनियाद बताया है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार इंडिया ब्लॉक के सूत्रधार हैं। उन्होंने भाजपा विरोधी दलों को एकजुट करने के अभियान का नेतृत्व किया था। बहुत जल्द, उन्हें इंडिया गठबंधन में अहम जिम्मेदारी दी जाएगी। 

कांग्रेस के एक अन्य नेता ने कहा है कि बिहार में कांग्रेस और राजद के बीच सीट बंटवारे को लेकर कुछ मुद्दे हैं, जिन्हें अगले सप्ताह तक सुलझा लिया जाएगा। वाम दलों को भी उन सीटों के बारे में बताया गया है, जो उन्हें मिलने की संभावना है।

बिहार, झारखंड समेत 14 राज्यों से गुजरेगी यह यात्रा
कांग्रेस की यह यात्रा पहले की तरह पूरी पैदल नहीं होगी। इसमें बस का भी इस्तेमाल होगा और 14 राज्यों के 85 जिलों से यात्रा गुजरेगी। करीब 6200 किमी की यात्रा मणिपुर, नगालैंड, असम, मेघालय, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, ओडिशा, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात व महाराष्ट्र से गुजरेगी। यात्रा में शामिल नेता समय-समय पर कुछ देर पैदल भी चलेंगे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें