CM Nitish laughs at Lalu - CM नीतीश ने लालू पर कसा तंज, बोले- मैंने किसी का हाथ नहीं पकड़ा DA Image
14 दिसंबर, 2019|3:42|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

CM नीतीश ने लालू पर कसा तंज, बोले- मैंने किसी का हाथ नहीं पकड़ा

nitish kumar

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिना लालू प्रसाद का नाम लिए कहा कि मैंने उनका हाथ नहीं पकड़ा था। वे ही मेरा हाथ पकड़े थे। लेकिन वे हाथ ज्यादा छुड़ाने लगे तो हम क्या करते। मुख्यमंत्री सोमवार को लोकसंवाद कार्यक्रम के बाद पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि शराबबंदी के समर्थन में 21 जनवरी, 2017 को बनी मानव शृंखला में गांधी मैदान में मेरे बगल में वे खड़े थे। पर बाद में क्या बोले वे शराबबंदी पर। इसलिए उनकी बात पर क्या प्रतिक्रिया देना। आगे उन्होंने कहा कि हमने ट्वीट कर लोगों को आईना दिखाया है। हमने अपने ट्वीट में किसी का नाम नहीं लिया था। हमने आठ ट्वीट लिखे थे, लेकिन पांच को ही सार्वजनिक किया। लेकिन हमने कभी भी भाषा की मर्यादा नहीं तोड़ी। 

लालू प्रसाद की सुरक्षा कम किए जाने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि घटायी केंद्र सरकार है और हम पर वे लोग बोलते हैं। राज्य सरकार की ओर से तो उन्हें सुरक्षा दी ही गई है। उन्होंने यह भी कहा कि 12 सालों से मैं मुख्यमंत्री हूं, पर मुझे तो केंद्र सरकार से कोई सुरक्षा नहीं मिली है। 
बालू मामले की मुख्य सचिव कर रहे मॉनिटरिंग

बालू को लेकर नयी नियमवली पर हाईकोर्ट से स्टे हो गया है। पुरानी व्यवस्था चल रही है। मुख्य सचिव के स्तर पर निरंतर इसकी मॉनिटरिंग की जा रही है। इसका मकसद है लोगों को सहजता से बालू मिले। इसमें अगर कोई कठिनाई हो रही है अथवा लोगों को अधिक कीमत देनी पड़ रही है तो सरकार इसे देखेगी। सरकार सुनिश्चित करेगी बालू सहूलियत से लोगों को प्राप्त हो। नियमों को ताक पर रखकर और पर्यावरण से खिलवाड़ कर बालू का उठाव और इसका परिवहन किया जा रहा है। सड़कें टूट रही थीं। इस पर रोक लगाने के लिए सरकार ने नया कदम उठाया है। 
पद्मावती फिल्म मामले को स्पष्ट किया जाए

पद्मावती फिल्म को लेकर चल रहे विवाद पर मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज के बड़े हिस्से में उनके प्रति सम्मान है। उन्हें लगता है कि उनको भ्रमित किया गया है। ऐसे में फिल्म बनाने वालों को स्प्ष्ट करना चाहिए ताकि भ्रम दूर हो। इसमें देर नहीं करनी चाहिए। 

काम की समीक्षा के लिए कर रहे यात्रा
मुख्यमंत्री ने कहा कि सात दिसंबर से मैं जिलों की यात्रा पर काम की समीक्षा करने जा रहा हूं। विकास यात्रा के दौरान मैं 19 गांवों में गया था और टेंट में रहा था। उन गांवों में भी जाऊंगा और विकास की समीक्षा करूंगा। योजनाओं और कार्यों की धरातल पर क्या स्थिति है, इसको देखूंगा। इसे किसी और चीज से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। जहां तक समान काम के लिए समान वेतन आदि मांग की बात है तो उस पर तो विचार होता रहता है। इस पर मेरी कोई प्रतिक्रिया नहीं है। यात्रा के दौरान समाज सुधार को लेकर चलाए जा रहे अभियान पर भी चर्चा होगी। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CM Nitish laughs at Lalu