DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार में बाढ़: CM नीतीश ने हवाई सर्वेक्षण किया, तटबंधों की विशेष निगरानी का दिया निर्देश

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को लगातार तीसरे दिन बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया। मंगलवार को पटना से वाल्मीकिनगर तक गंडक नदी के संवेदनशील तटबंधों को हवाई सर्वेक्षण के दौरान देखा। इसी क्रम में उन्होंने विशेषकर गोपालगंज के निकट रूपनछाप एवं समहरा धार के निकट तटबंधों की विशेष निगरानी और उन्हें मजबूत करने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री ने बगहा शहर का भी सर्वेक्षण किया। 

मुख्यमंत्री ने पश्चिम चम्पारण के चनपटिया, नरकटियागंज तथा पूर्वी चम्परण के रमगढ़वा, सुगौली एवं बंजरिया का भी सर्वेक्षण किया। इन इलाकों में नेपाल की तराई से निकलने वाली नदियों मसान, तिलावे, तिमर एवं सिकरहना का पानी फैलने से बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हुई है। हवाई सर्वेक्षण से लौटने के बाद मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव, जल संसाधन के अपर मुख्य सचिव, जल संसाधन और आपदा प्रबंधन के प्रधान सचिव के साथ पश्चिम चम्पारण एवं पूर्वी चम्पारण की बाढ़ की स्थिति की समीक्षा की। 

बेतिया-मोतिहारी के कई प्रखंडों में स्थिति गंभीर : सीएस
मुख्य सचिव दीपक कुमार ने कहा कि बेतिया और मोतिहारी के कई प्रखंडों में काफी बड़े क्षेत्र में पानी फैला है। हवाई सर्वेक्षण के दौरान इन क्षेत्रों में स्थिति गंभीर दिखी। बूढ़ी गंडक का पानी फैला हुआ है। उन्होंने कहा कि चनपटिया, मझौलिया, रामगढ़वा, सुगौली, बंजरिया और पताही प्रखंड में काफी पानी फैला है। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है कि बुधवार को आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत के नेतृत्व में टीम हवाई सर्वेक्षण करे, जिसमें संबंधित जिलों के जिलाधिकारी भी रहें। पूरी स्थिति का जायजा लेकर जल्द राहत और बचाव कार्य चलाया जाए। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CM Nitish conducts survey of flood affected areas in Bihar