ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारINDIA गठबंधन की बैठक से पहले विधानसभा चुनावों के रिजल्ट पर घमासान, कांग्रेस पर भड़की सीपीएम

INDIA गठबंधन की बैठक से पहले विधानसभा चुनावों के रिजल्ट पर घमासान, कांग्रेस पर भड़की सीपीएम

कांग्रेस की भूमिका पर सवाल उठाते हुए सीपीएम ने कहा कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के दौरान विपक्षी एकता नहीं दिखी, इसी वजह से बीजेपी को जीत मिली है।

INDIA गठबंधन की बैठक से पहले विधानसभा चुनावों के रिजल्ट पर घमासान, कांग्रेस पर भड़की सीपीएम
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,पटनाFri, 08 Dec 2023 05:55 PM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर INDIA गठबंधन की आगामी बैठक से पहले विपक्षी दलों में घमासान मच गया है। लेफ्ट ने कांग्रेस पर हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों को लेकर हमला बोला है। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीएम) ने राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के चुनाव में कांग्रेस पर अन्य विपक्षी दलों की अनदेखी करने के आरोप लगाए हैं। सीपीएम ने कहा कि विधानसभा चुनावों में कांग्रेस ने उदारता का परिचय नहीं दिया, इस वजह से बीजेपी जीत गई। बता दें कि INDIA गठबंधन की आगामी बैठक 17 और 18 दिसंबर को दिल्ली में होना प्रस्तावित है।

सीपीएम पोलित ब्यूरो के सदस्य अशोक धवले और पूर्व सांसद विजय राघवन ने पटना में शुक्रवार को मीडिया से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि देश में बीजेपी के फासीवादी हिंदुत्व का खतरा और ज्यादा बढ़ गया है। हाल के विधानसभा चुनाव परिणाम बताते हैं कि भारत देश की बड़ी जनसंख्या को सांप्रदायिक राजनीति के इर्द-गिर्द लामबंद करने में सफल हुई है।

कांग्रेस की भूमिका पर सवाल उठाते हुए सीपीएम नेता ने कहा कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के दौरान विपक्षी एकता दिखाई नहीं पड़ी। इससे भाजपा को लाभ मिला। कांग्रेस इन राज्यों में सबसे बड़ी पार्टी थी। इसलिए तमाम छोटे दलों को एकताबद्व करने की जिम्मेदारी कांग्रेस पार्टी पर थी। मगर उसने इस उदारता का परिचय नहीं दिया।  

INDIA गठबंधन की अगली बैठक में होगी सीट बंटवारे पर बात? नीतीश ने दिए संकेत

बता दें कि राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा। तीनों राज्यों में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत से जीत दर्ज की है। वोटिंग से पहले एमपी में कांग्रेस की सपा से गठबंधन पर चर्चा हुई थी। मगर बाद में कांग्रेस ने सपा के प्रभाव वाली सीटों पर भी प्रत्याशी उतार दिए थे। इसके बाद अखिलेश यादव और कांग्रेस नेताओं के बीच तीखी नोकझोंक देखने को मिली थी। उस समय भी INDIA गठबंधन के दलों में तकरार देखने को मिली थी।