ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारछपरा में गायत्री यज्ञ स्थल पर भगदड़, भीड़ में दबकर दो महिलाओं की मौत; तीन लोग घायल

छपरा में गायत्री यज्ञ स्थल पर भगदड़, भीड़ में दबकर दो महिलाओं की मौत; तीन लोग घायल

बिहार के छपरा में गायत्री महायज्ञ स्थल पर मची भगदड़ में दो महिलाओं की मौत की खबर है। तीन अन्य लोग घायल हुए हैं। यज्ञ केंद्र का गेट खुलने के बाद अंदर घुसने के दौरान यह हादसा हुआ।

छपरा में गायत्री यज्ञ स्थल पर भगदड़, भीड़ में दबकर दो महिलाओं की मौत; तीन लोग घायल
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,छपराFri, 03 Nov 2023 12:13 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के छपरा में शुक्रवार सुबह गायत्री महायत्र स्थल पर दुखद हादसे में दो महिलाओं की जान चली गई। परसा के मस्ती चक में चल रहे 251 कुंडीय गायत्री महायज्ञ में शामिल होने आईं दो महिलाओं की भीड़ में दब कर मौत हो गई। इस हादसे में तीन अन्य लोग जख्मी हुए हैं। उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है। बताया जा रहा है कि सुबह यज्ञ केंद्र का गेट खुलते ही अचानक भीड़ अंदर प्रवेश करने लगीं। तभी भगदड़ मचने से महिलाएं नीचे गिरकर दब गईं और उनकी सांसें थम गईं। मरने वाली दोनों महिलाएं औरंगाबाद जिले के दाउदनगर की रहने वाली थीं।

जानकारी के मुताबिक सारण जिले के परसा में 251 कुंडीय गायत्री महायज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। शुक्रवार सुबह यज्ञ स्थल का मुख्य द्वार बंद था। गेट के बाहर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी और गेट खुलने का इंतजार कर रही थी। जब ्यज्ञ स्थल का गेट खुला तो अंदर घुसने के लिए श्रद्धालुओं में होड़ मच गई। अफरा-तफरी के माहौल के बीच कुछ लोग नीचे गिर गए। भीड़ में दबकर दो महिलाओं की जान चली गई। 

मृतकों में औरंगाबाद ज़िले के दाउदनगर थाना क्षेत्र के बड़का बिगहा निवासी राम प्यारे राम की पत्नी 70 वर्षीय राम कलियां देवी और कनाप गांव निवासी मोती बैठा की पत्नी 62 वर्षीय पार्वती देवी शामिल है। घटना की जानकारी के बाद परिजन परेशान हैं। 

इससे पहले गोपालगंज में भी दुर्गा पूजा मेले के दौरान ऐसा हादसा हुआ था। 23 अक्टूबर को रेलवे स्टेशन के पास राजा दल पूजा पंडाल में दर्शनार्थियों की भीड़ बेकाबू हो गई थी। इससे भीड़ में दबकर दो महिलाओं और एक बच्चे की मौत हो गई। वहीं डेढ़ दर्जन से ज्यादा लोग घायल हुए थे। इसके बाद पूजा पंडाल में सुरक्षा व्यवस्था पर भी सवाल उठे थे। हालांकि बाद में गोपालगंज जिला प्रशासन ने एहतियात तौर पर पूजा पंडाल पर भीड़ को लेकर कई तरह के प्रतिबंध लगाए थे।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें