ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारबिहार में भीषण गर्मी से त्राहिमाम; आपदा जैसे हालात, CM नीतीश ने विभागों को दिए ये निर्देश

बिहार में भीषण गर्मी से त्राहिमाम; आपदा जैसे हालात, CM नीतीश ने विभागों को दिए ये निर्देश

बिहार में जारी भीषण गर्मी और लू से 70 से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। और हालात आपदा जैसे हैं। इस बीच सीएम नीतीश ने तमाम विभागों को अलर्ट रहने का आदेश दिया है।

बिहार में भीषण गर्मी से त्राहिमाम; आपदा जैसे हालात, CM नीतीश ने विभागों को दिए ये निर्देश
Sandeepहिन्दुस्तान ब्यूरो,पटनाWed, 12 Jun 2024 09:47 AM
ऐप पर पढ़ें

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में गर्मी और हीट वेव की आपदाजनक स्थिति को देखते हुए मंगलवार को आपदा प्रबंधन विभाग एवं सभी जिलाधिकारियों को समुचित कार्रवाई का निर्देश दिया है। उन्होंने पूरे प्रदेश में निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने और अस्पतालों को अलर्ट रखने को कहा है। साथ ही अस्पतालों में आवश्यक दवाइयों की उपलब्धता सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया है।

सीएम नीतीश ने एक्स पर पोस्ट करते हुए लिखा कि भीषण गर्मी और हीटवेव की आपदाजनक स्थिति को देखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग एवं राज्य के सभी जिलाधिकारियों को समुचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। सभी जिलों के संवेदनशील स्थानों पर पीने के पानी के टैंकर पर्याप्त संख्या में रखने को कहा है। साथ ही भूजल स्तर पर भी नजर रखने को कहा है। भीषण गर्मी एवं लू से बचने के लिए लोगों को उचित सावधानी बरतने की सलाह देते हुए माइकिंग की भी व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।

सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों सहित अनुमंडल एवं सदर अस्पतालों में जरूरी स्वास्थ्य सुविधाओं तथा जरूरी दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा है। गांव हो या शहर सभी जगहों पर निर्बाध रूप से बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित करने को कहा है ताकि लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिल सके। आपदा प्रबंधन विभाग को निर्देश दिया है कि लोगों को लगातार जागरूक करते रहें और संपूर्ण स्थिति पर निगरानी रखें।

ये भी पढ़िए- Bihar Weather Today: पटना में गर्मी का तांडव, इन जिलों में पारा 45 के पार, 14 जिलों में रेड अलर्ट

मुख्यमंत्री ने कहा है कि सभी जिलों के संवेदनशील स्थानों पर पीने के पानी के टैंकर पर्याप्त संख्या में रखे जाएं। भूजल स्तर पर भी नजर रखें और अपने-अपने जिलों की स्थिति का आकलन करें। आपको बता दें राज्य में लू और गर्मी से 70 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।