DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सनसनी: पटना के व्यवसायी ने पत्नी, बच्चों और खुद को मारी गोली- VIDEO

file photo

1 / 3file photo

2 / 3मौके पर पहुंचे आईजी और एसएसपी

3 / 3पटना में व्यवसायी ने पत्नी और बच्चों समेत खुद को मारी गोली

PreviousNext

राजधानी पटना के कपड़ा कारोबारी अशोक सर्राफ के बेटे निशांत सर्राफ (42 वर्ष) ने अपनी पत्नी, बेटा, बेटी संग खुद को अपनी ही लाइसेंसी पिस्टल से गोली मार कर इहलीला खत्म कर ली, जबकि सिर में गोली लगने से चार वर्षीय बेटे ईशांत की हालत चिंताजनक बनी हुई थी। राजाबाजार स्थित एक निजी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती ईशांत की भी शाम को मौत हो गई। 

दिलदहलाने वाली यह घटना कोतवाली थाना क्षेत्र के किदवईपुरी के मकान एक-46 में हुई। मौका-ए-वारदात से पुलिस ने तीन खोखे, कई मोबाइल और सुसाइड नोट बरामद किया है, जिसमें मृत कारोबारी ने घटना का जिम्मेदार खुद होने का जिक्र किया है। बहरहाल, सुसाइड नोट के आधार पर आत्महत्या को ही अहम कारण मानते हुए पुलिस अन्य पहलुओं पर भी जांच कर रही है। 

पुलिस महानिरीक्षक सुनील कुमार ने बताया कि प्रारंभिक जांच में पता चला है कि मामला आत्महत्या का है। बताया गया है कि मूलरूप से पटना सिटी के राजबाबू गली के रहने वाले प्रतिष्ठित कारोबारी अशोक सर्राफ पिछले तीन साल से किदवईपुरी इलाके में आलीशान तीन मंजिले मकान में परिवार सहित रहते हैं। वह चार भाइयों में सबसे बड़े हैं। किशोर सर्राफ, मुन्ना सर्राफ और पप्पू सर्राफ इनके भाई हैं। किदवईपुरी स्थित ए 46 में अशोक सर्राफ के अलावा पप्पू सर्राफ का भी परिवार रहता है। अशोक सर्राफ का बड़ा कारोबार है। शहर में इनके कपड़े, ज्वेलरी, गल्ला के कई बड़े प्रतिष्ठान हैं, जिसमें उनके बेटे व भाई-भतीजे भी हाथ बंटाते हैं। हर दिन सभी लोग सुबह की चाय साथ में पीते थे। मंगलवार की सुबह करीब नौ बजे जब निशांत व उनकी पत्नी चाय के लिए नहीं पहुंची तो निशांत की भाभी उन्हें बुलाने दूसरी मंजिल पर गई। 

खटखटाने पर जब दरवाजा नहीं खुला तो पुलिस को सूचना दी। कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। मास्टर की से पुलिस ने कमरे का दरवाजा खोला तो अंदर का दृश्य काफी विभत्स था। बेड पर अशोक सर्राफ के बेटे निशांत और उनकी पत्नी अलका, बेटी अन्या का शव बेड पर पड़ा था जबकि मृत कारोबारी का चार वर्षीय बेटा ईशांत लहूलुहान होकर कराह रहा था। पुलिस ने घायल ईशांत को राजाबाजार स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। अस्पताल में उसे आईसीयू में रखा गया है। पुलिस ने मौके पर पड़ी लाइसेंसी पिस्टल, तीन खोखे, कई मोबाइल व छह लाइन का अंग्रेजी में लिखा सुसाइड नोट कब्जे में ले लिया। देर शाम तक घटना का कारण स्पष्ट नहीं हो सका था। 

घर पर पसरा मातम, पहुंचे सभी बड़े कारोबारी
घटना के बाद से सर्राफ निवास में मातमी सन्नाटा पसरा रहा। शहर में एक ही परिवार के तीन व्यक्ति की मौत की घटना से लोग अवका रह गये। सूचना मिलते ही कारोबार जगत के नामी गिरामी लोग मौके पर पहुंचने लगे। शाम तक लोगों के आने का सिलसिला का जारी रहा। घटना स्थल पर पहुंचे कारोबारियों में इसी बात को लेकर चर्चा थी कि निशांत का अमूमन सबसे बेहतर संबंध रहता था। उसे किसी चीज की कमी भी नहीं थे। कई नरामी गिरामी प्रतिष्ठान का मालिक होने के चलते इन्हें पैसे की कमी नहीं रही होगी। घर पहुंचने वालों में कमल नोपानी, बासु सर्राफ, राजे कुमार सुरेका, उमेश, गोपाल खेमका, सूरज भान समेत दर्जनों बड़े लोग मौजूद रहे। 

प्रारंभिक जांच में कारोबारी ने पत्नी व बेटी के साथ गोली मारकर आत्महत्या की है। सुसाइड नोट में भी कारोबारी ने इसका जिक्र करते हुए खुद को भी घटना का जिम्मेदार बताया है। अन्य पहलुओं पर भी जांच की जा रही है। जांच पूरी होने पर मामले का खुलासा किया जाएगा।
-सुनील कुमार, आईजी पटना

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Businessman shot himself with wife and children In Patna