DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार: शराबी दूल्हे को पति बनाने से किया इनकार, बारातियों की हुई पिटाई

बहादुर बेटी ने शराबी को अपना पति बनाने से इनकार कर दिया। वरमाला के बाद दूल्हन ने शादी से मना कर दिया। उसका आरोप था कि दूल्हे के साथ बाराती भी शराब के नशे में धुत थे। इसके बाद बाराती व सरातियों के बीच जमकर मारपीट हुई। मारपीट में दोनों पक्षों के आधा दर्जन लोग जख्मी हो गये। दूल्हा और दूल्हन दोनों गुहार लगाने सोहसराय थाना पहुंच गये।

पटना के इंदिरा नगर मोहल्ला निवासी मोनू की बारात बिहारशरीफ के कागजी मोहल्ला आयी थी। उसकी शादी सुनील प्रसाद की पुत्री निशा से तय हुई थी। नाचती-गाती बारात दरवाजे पर पहुंची। समधी मिलन के बाद जयमाला की रस्म निभायी गयी। उसी समय दूल्हे और बारातियों की हरकत देखकर दुल्हन गुस्से से लाल हो गयी। मंडप पर बैठने से पहले ही उसने शादी करने से इनकार कर दिया। बात इतनी बढ़ गयी कि दोनों पक्षों के लोग भिड़ गये और जमकर मारपीट हुई।

निशा का कहना था कि शराब के नशे में बाराती हंगामा कर रहे थे। दूल्हे ने भी शराब पी रखी थी। बार-बार दहेज की मांग कर उनके पिता को परेशान कर रहे थे। पिताजी से जो बन पड़ा दिया। इससे उन्हें संतोष नहीं हुआ। बाद में बर्तन की मांग पर अड़ गये। बारात पक्ष पिता की बेइज्जती करने पर तुले थे। अपने पिता की यह बेइज्जती उससे देखी नहीं गयी तो उसने शादी से इनकार कर दिया।

बारातियों को दौड़ाकर पीटा
बाराती पक्ष के लोग शराब पीने व दहेज मांगने की बात से इनकार कर रहे थे। उनका कहना था कि महीनों पहले शादी तय हुई थी। लड़के को कई बार लड़की पक्ष के लोगों ने देखा था। तिलक से लेकर सारी रस्म दोनों परिवारों की रजामंदी से हुई थी। बारात पहुंचने के बाद लड़की पक्ष के लोग दूल्हा बदलने का आरोप लगाने लगे। इतना ही नहीं, बारातियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। 

थाने में हाईवोल्टेज ड्रामा
घटना की शिकायत लेकर शुक्रवार को दोनों पक्ष सोहसराय थाने पहुंचे। वहां भी दोनों पक्षों में घंटों हाई वोल्टेज ड्रामा हुआ। एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते रहे। दोनों पक्षों के लोग लड़की को समझाने की कोशिश करते रहे। पुलिस अधिकारियों ने भी समझाने की कोशिश की। लेकिन, लड़की ने शादी करने से साफ इनकार कर दिया। 

लड़की के साहसिक कदम की प्रशंसा
इलाके में हर जुबान पर इसी घटना की चर्चा हो रही है। लोग शादी रुकने पर दुख जता रहे हैं। सभी लोग लड़की के इस साहसिक कदम की प्रशंसा कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि यह कदम समाज को नयी दिशा दिखाने वाला है। 

थाने में किसी ने नहीं की शिकायत
थानाध्यक्ष विज्येन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि लड़का पक्ष के लोगों ने शादी से इनकार करने व मारपीट की शिकायत की थी। दोनों पक्षों को थाने में बुलाकर समझौता कराने की कोशिश की गयी। लड़की शादी के लिए तैयार नहीं हुई। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bride refuses marriage to drunken groom in Bihar