ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारबिट्टू, चिंटू, पंकू, काजू... नीट पेपर लीक में 6 नाम और आए, जानिए इनका किससे कनेक्शन

बिट्टू, चिंटू, पंकू, काजू... नीट पेपर लीक में 6 नाम और आए, जानिए इनका किससे कनेक्शन

नीट पेपर लीक में बिहार की आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) ने झारखंड से बिट्टू, चिंटू, पंकू, काजू, राजीव और अजीत नाम के 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। ये सभी एक घर में छिपे हुए थे।

बिट्टू, चिंटू, पंकू, काजू... नीट पेपर लीक में 6 नाम और आए, जानिए इनका किससे कनेक्शन
Jayesh Jetawatलाइव हिन्दुस्तान,पटनाSat, 22 Jun 2024 05:14 PM
ऐप पर पढ़ें

नीट पेपर लीक की जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है, इसकी परतें खुलती जा रही हैं। बिहार की आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) ने अब झारखंड में कार्रवाई करते हुए देवघर से 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। इन्हें पटना लाकर पूछताछ की जा रही है। पेपर लीक मामले में झारखंड से गिरफ्तार आरोपियों के नाम बिट्टू, चिंटू, पंकू, काजू, राजीव और अजीत । इनमें से पंकू को छोड़कर बाकी सभी नालंदा जिले के निवासी बताए जा रहे हैं। इनका लिंक नीट पेपर लीक के मास्टरमाइंड संजीव मुखिया से होना सामने आया है। संजीव अभी फरार है। इससे पहले ईओयू ने पेपर लीक मामले में बिहार से 13 आरोपियों को गिरफ्तार किया था, जिनमें 4 नीट अभ्यर्थी हैं।

जानकारी के मुताबिक बिहार ईओयू ने शुक्रवार रात को झारखंड के देवघर में दबिश देकर एम्स के पास स्थित एक मकान से 6 लोगों को हिरासत में लिया। शनिवार को इन्हें पटना लाया गया, जहां जांच टीम इनसे पूछताछ कर रही है। हालांकि, ईओयू की तरफ से अभी तक इस बारे में जानकारी नहीं दी गई है। लेकिन देवघर के एसडीपीओ ऋत्विक श्रीवास्तव ने इसकी पुष्टि की है। बताया जा रहा है कि ये सभी एक घर में छिपे हुए थे और अपनी पहचान बदलकर रह रहे थे।

नीट पेपर लीक में झारखंड से इन 6 लोगों की हुई गिरफ्तारी
- परमजीत सिंह उर्फ बिट्टू
- बलदेव कुमार उर्फ चिंटू
- प्रशांत कुमार उर्फ काजू
- अजीत कुमार
- राजीव कुमार उर्फ कारू
- पंकू कुमार उर्फ पिंटू

संजीव मुखिया से इनका कनेक्शन
इन आरोपियों का नीट पेपर लीक के मास्टरमाइंड संजीव मुखिया से कनेक्शन बताया जा रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक संजीव को एक प्रोफेसर के जरिए सबसे पहले नीट का प्रश्न पत्र मोबाइल पर मिला था। उसने चिंटू को यह पेपर भेजा। चिंटू के कहने पर पंकू ने उसका प्रिंट आउट निकाला। फिर उन्होंने मिलकर नीट अभ्यर्थियों तक पेपर पहुंचाया। इस गिरोह में काजू, अजीत, बिट्टू, अजीत और राजीव की भी संलिप्तता रही। 5 मई को हुई नीट परीक्षा से पहले पटना के अलावा रांची में भी अभ्यर्थियों को पेपर रटवाया गया था। इसके बदले में उनसे लाखों की डील की गई थी। 

कौन है संजीव मुखिया जिसके पास प्रोफेसर के जरिए सबसे पहले पहुंचा नीट का पेपर

बता दें कि संजीव मुखिया नालंदा जिले के नगरनौसा का रहने वाला है। वह लंबे समय से पेपर लीक गिरोह से जुड़ा हुआ है। उसके बेटा बीपीएससी शिक्षक पेपर लीक में जेल भी गया। संजीव नालंदा हॉर्टिकल्चर कॉलेज में तकनीकी सहायक का काम करता है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

अतुल, अंशुल, अमित, नीतीश, सिकंदर... नीट पेपर लीक में किसका क्या काम?

नीट पेपर लीक की जांच में इससे पहले सिकंदर यदुवंशी, अमित आनंद, नीतीश कुमार, अतुल वत्स्य और अंशुल सिंह का भी नाम सामने आया। सिकंदर यदुवंशी पथ निर्माण विभाग में बतौर जूनियर इंजीनियर के पद पर तैनात था, उसने अमित और नीतीश के जरिए नीट अभ्यर्थियों और उनके अभिभावकों से डील की थी। अतुल और अंशुल ने उन्हें नीट का पेपर लाकर दिया था।