ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारबिहार: नवादा में दर्दनाक सड़क हादसा, नीतीश और उसके नाना की मौत से मचा कोहराम

बिहार: नवादा में दर्दनाक सड़क हादसा, नीतीश और उसके नाना की मौत से मचा कोहराम

दुर्घटना के समय जोरदार आवाज हुई जिससे आसपास के लोग दौड़कर आये और लोगों ने अस्पताल पहुंचाया। अस्पाल के डॉक्टर ने मौत की पुष्टि कर दी। परिजनों को सूचना मिलते ही अस्पताल आये। पोस्टमार्टम करा लिया गया है

बिहार: नवादा में दर्दनाक सड़क हादसा, नीतीश और उसके नाना की मौत से मचा कोहराम
Sudhir Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नवादाSun, 26 May 2024 10:12 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के नवादा में सड़क हादसे में नीतीश कुमार और उसके नाना की मौत हो गई।अज्ञात वाहन ने उनकी बाइक में ठोकर मार दिया और रोड डिवाइडर से टकराकर दोनों की मौत हो गई। आंखों का इलाज करवा कर बिहारशरीफ से लौट रहे थे। एक साथ दो मौत की घटना से परिवार में कोहराम मच गया है। परिजनों ने बताया कि रिश्ते में नाना सुरेंद्र महतो अपनी आंखों की जांच करवाकर नाती के साथ बाइक से घर लौट रहे थे। इस दौरान मस्तानगंज के हनुमान मंदिर के पास किसी  अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी।  इससे फरहा निवासी 45 वर्षीय सुरेंद्र महतो व उनके नाती 25 वर्षीय नीतीश कुमार की मौत हो गयी।  बताया जाता है कि दुर्घटना के बाद गाड़ी रोड के डिवाइडर से टकरा गयी थी। 

मुरहेना के एक शख्स धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि गिरिजा देवी के पिता सुरेंद्र महतो को बाइक चलाना नहीं आता था।  इस कारण अपने साथ बड़े नाती नीतीश कुमार को ले गए।  इलाज करवा कर बिहार शरीफ से दोनों मोटरसाइकिल से अपने घर फरहा लौट रहे थे।  इसी क्रम में मस्तानगंज के निकट किसी अज्ञात वाहन से टकराकर गिर गये और डिवाइडर से टकराकर मौत हो गयी। घर वाले उनका इंतजार कर रहे थे पर उनकी मौत की खबर पहुंची।

इसे भी पढ़ें- असम के व्यक्ति ने किशनगंज सदर अस्पताल में लगाई फांसी, चादर का बनाया फंदा; कैसे पहुंचा अस्पताल?

घटना के समय हुई तेज आवाज

स्थानीय लोगों ने बताया कि दुर्घटना के समय जोरदार आवाज हुई जिससे आसपास के लोग दौड़कर आये और लोगों ने अस्पताल पहुंचाया। अस्पाल के डॉक्टर ने मौत की पुष्टि कर दी।  परिजनों को सूचना मिलते ही अस्पताल आये। पोस्टमार्टम के बाद लाश को परिजनों को सौंप दी गया। 

एक ही साथ एक ही परिवार के दो सदस्यों की मौत से परिवार में दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है।  मृतक सुरेंद्र महतो के दो पुत्री हैं. इसमे एक अविवाहित हैं।  पिता की मृत्यु के बाद घर की पूरी जिम्मेवारी बड़ी बहन गिरिजा देवी के उपर आ गया है। स्थानीय लोगों ने मृतकों के परिजन के लिए मुआवजे की मांग की है। तथा उक्त गाड़ी को पकड़ने की भी मांग की गयी है।