DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार में दिमागी बुखार पर नेताओं के बयान से बखेड़ा

                                                                                12                                                           95

बिहार के मुजफ्फरपुर में दिमागी बुखार से हो रही मौतों से पूरे देश में गम और गुस्सा है। दूसरी ओर नेताओं के विवादित बयान से विवाद खड़े हो रहे हैं।

सांसद का 4जी फॉर्मूला

मुजफ्फरपुर से भाजपा सांसद अजय निषाद ने कहा कि बीमारी की असली वजह 4जी है- गांव, गरीबी, गंदगी और गर्मी। ज्यादातर मरीज गरीब तबके से हैं और उनके रहन-सहन के स्तर में गिरावट है। उसे सुधारने की जरूरत है। गर्मी भी एक वजह है। उन्होंने कहा कि ज्यादातर बच्चे गरीब परिवार से हैं, अनुसूचित जाति से हैं। गंदगी के कारण यह बीमारी उन्हें चपेट में ले रही है। कभी-कभी चूक हो जाती है। बीमारी में गिरावट हो गई, इसलिए ध्यान हट गया। 

गर्मी को जिम्मेदार बताया

मधेपुरा से जदयू सांसद दिनेश चंद्र यादव ने मौतों की वजह गर्मी बताई। उन्होंने कहा कि कई वर्षों से जब भी गर्मियां आती हैं, बच्चे बीमार पड़ जाते हैं और मौत का आंकड़ा बढ़ जाता है। ऐसा हर बार होता है। बारिश शुरू होगी तो यह रुक जाएगा। 

नीतीश का विरोध

अब तक बिहार में बुखार से 144 बच्चों की मौत हो चुकी है। मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जब अस्पताल पहुंचे तो उन्हें भारी विरोध का सामना करना पड़ा।

VHP का सम्मेलन आज; अनुच्छेद 370, राम मंदिर और गोरक्षा अहम एजेंडा

जैश आतंकी सजाद भट को मार सेना ने लिया पुलवामा का बदला

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bihars brain fever jolted by statements of leaders