ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारBihar Weather: रेमल चक्रवाती तूफान का बिहार में भी होगा असर, इन जिलों में आंधी और बारिश का अलर्ट

Bihar Weather: रेमल चक्रवाती तूफान का बिहार में भी होगा असर, इन जिलों में आंधी और बारिश का अलर्ट

Remal Cyclone Bihar Weather: रेमल साइक्लोन का 26 मई को बिहार में भी असर देखने को मिलेगा। मौसम विभाग ने कोसी-सीमांचल और उत्तर बिहार के जिलों में आंधी एवं बारिश की चेतावनी जारी की है।

Bihar Weather: रेमल चक्रवाती तूफान का बिहार में भी होगा असर, इन जिलों में आंधी और बारिश का अलर्ट
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,पटनाFri, 24 May 2024 10:21 PM
ऐप पर पढ़ें

Remal Cyclone Bihar Weather: बंगाल की खाड़ी में उठा रेमल चक्रवाती तूफान 26 मई को बांग्लादेश और गंगीय पश्चिम बंगाल के तट पर टकराने वाला है। इसका प्रभाव अप्रत्यक्ष रूप से बिहार पर भी पड़ेगा। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक रेमल तूफान के प्रभाव से सुपौल, अररिया, किशनगंज, पूर्णिया, कटिहार और मधेपुरा के साथ ही उत्तर बिहार में तेज आंधी के साथ बारिश होने की संभावना है। वहीं दक्षिण बिहार में बादल छाए रहेंगे और कुछ जगहों पर हल्की बारिश होने की संभावना है। इस वजह से लोगों को कुछ दिनों तक गर्मी से राहत मिलेगी।  

मौसम विभाग के रडार और उपग्रह से प्राप्त आंकड़ों के विश्लेषण के अनुसार शुक्रवार सुबह डिप्रेशन और शाम में डीप डिप्रेशन (हवा की गति बढ़ने के आधार पर डिप्रेशन और डीप डिप्रेशन बनता है) बनने के कारण शनिवार को रेमल नामक साइक्लोन बनेगा। जो रविवार को बांग्लादेश और गंगीय पश्चिम बंगाल के तट पर टकराएगा। ओमान द्वारा इस साइक्लोन का नाम रेमल रखा गया है। कमजोर साइक्लोन होने के कारण ज्यादा नुकसान होने की संभावना नहीं है। लेकिन बंगाल की खाड़ी से बिहार में नमी युक्त पूरवा हवा का प्रवाह जारी रहेगा। जिस कारण अधिकतम तापमान में विशेष वृद्धि होने की संभावना नहीं है। 

तूफान का मानसून पर कितना असर पड़ा, 26 मई को चलेगा पता
मौसम विभाग के अनुसार तूफान का मानसून पर कितना असर पड़ा है। इसकी सही जानकारी तूफान के टकराने के बाद ही मिलेगी। जबकि मानसून अपने निर्धारित समय से एक दिन पहले ही 19 मई को अंडमान निकोबार पहुंचा था। जो अब तक सही रफ्तार से आगे बढ़ रहा है। इसी कारण उम्मीद जताई जा रही है कि अगर तूफान का कोई असर मानसून पर नहीं पड़ा। तो केरल में भी मानसून अपने निर्धारित समय से एक दिन पहले 31 मई को ही पहुंच जाएगा।

तीन दिनों के बाद बिहार का पारा फिर से पहुंचा 40 के पार 
बिहार का अधिकतम तापमान एक बार फिर से तीन दिनों के बाद शुक्रवार को 40 डिग्री सेल्सियस के पार चला गया। राजधानी के अधिकतम तापमान में 4.6 और न्यूनतम तापमान में 2.9 डिग्री सेल्सियस बढ़ोतरी हुई। जिस कारण पटना का अधिकतम तापमान 39.5 और न्यूनतम तापमान 29.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। वहीं शुक्रवार को प्रदेश का सबसे गर्म जिला 42.1 डिग्री सेल्सियस के साथ बक्सर रहा। वहीं 9 शहरों का अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के पार रहा। इससे पहले 20 मई को अधिकतम तापमान 41.2 डिग्री सेल्सियस औरंगाबाद और डेहरी में दर्ज किया गया था। मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को प्रदेश के अधिकतर शहरों के अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी हुई। जिस कारण लोगों को उमस भरी गर्मी का एहसास हो रहा था।