ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारBihar Weather AQI Today: बढ़ने लगा सर्दी का सितम, 13 जिलों का 4 डिग्री गिरा पारा, पटना-कटिहार की हवा बेहाल

Bihar Weather AQI Today: बढ़ने लगा सर्दी का सितम, 13 जिलों का 4 डिग्री गिरा पारा, पटना-कटिहार की हवा बेहाल

राज्य में ठंड अब अपना प्रकोप दिखाने लगी है। 13 जिलों का पारा 4 डिग्री तक गिर गया। जिससे सुबह-शाम सर्दी में बढ़ोतरी हुई है। वहीं पटना और कटिहार की हवा सबसे खराबह बनी हुई है। एक्यूआई 350 के पार है।

Bihar Weather AQI Today: बढ़ने लगा सर्दी का सितम, 13 जिलों का 4 डिग्री गिरा पारा, पटना-कटिहार की हवा बेहाल
Sandeepलाइव हिन्दुस्तान,पटनाTue, 19 Dec 2023 09:06 AM
ऐप पर पढ़ें

लगातार बर्फीली और शुष्क हवाओं के प्रवाह से पटना सहित 13 शहरों का न्यूनतम पारा सामान्य से चार डिग्री तक नीचे आ गया। गया में 3.8 डिग्री और भागलपुर में तीन डिग्री और पटना में एक डिग्री नीचे पहुंचा है। सोमवार को 14 शहरों में न्यूनतम तापमान में आंशिक गिरावट आई। वहीं, 15 शहरों में न्यूनतम तापमान मामूली रूप से ऊपर चढ़ा। राज्य के 24 शहरों में अधिकतम तापमान नीचे आया है। पटना का अधिकतम तापमान दो दिनों से स्थिर है। 

मौसमविदों के मुताबिक दिन में धूप खिलने से अधिकतम तापमान सामान्य के आसपास रहा पर सुबह-शाम पछुआ कनकनी बढ़ा रही है। अभी न्यूनतम तापमान में उतार-चढ़ाव होने पर भी ठंड रहेगी। लगातार दूसरे दिन बिहार के 14 शहरों का न्यूनतम तापमान दस डिग्री से नीचे दर्ज किया गया। पटना में पारा 9.5 डिग्री रहा। अभी कुछ दिन ठंड से निजात मिलने के आसार नहीं है। पछुआ का प्रवाह एक दो दिनों में कम होने पर न्यूनतम तापमान में आंशिक बढ़ोतरी होगी। वहीं, कोहरा बढ़ने से दृश्यता घटेगी।

यहां न्यूनतम तापमान दस डिग्री से नीचे सबौर में 6.5 डिग्री, डेहरी में आठ डिग्री, मोतिहारी में 9.4 डिग्री, बक्सर में 8.5 डिग्री, जमुई में 7.5 डिग्री, औरंगाबाद में 8.4 डिग्री, सीतामढ़ी के पुपरी में 8.2 डिग्री, बांका में 6.5 डिग्री, नवादा में 8 डिग्री, समस्तीपुर के पूसा में 8 डिग्री जबकि कैमूर में 8.9 डिग्री न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया। मिली जानकारी के अनुसार, बक्सर का तापमान सामान्य से ढाई डिग्री, औरंगाबाद में सामान्य से दो डिग्री, बांका में सामान्य से तीन डिग्री, सबौर में सामान्य से चार डिग्री, नवादा में सामान्य से दो डिग्री न्यूनतम तापमान नीचे दर्ज किया गया।

वहीं प्रदेश में वायु प्रदूषण बढ़ने का सिलसिला जारी है। सोमवार को राज्य का सबसे अधिक प्रदूषित शहर कटिहार रहा। इस शहर का वायु गुणवता सूचकांक 392 रहा जो राज्य के सभी शहरों से अधिक है। पटना में भी वायु प्रदूषण बेहद खराब स्थिति में है। शहर में गांधी मैदान इलाके की स्थिति सबसे खराब है। राज्य में सबसे अधिक खराब स्थिति गांधी मैदान इलाके की है यहां का वायु गुणवत्ता सूचकांक 430 रहा जो खतरनाक श्रेणी में आता है। आठ शहरों की हवा बेहद खराब बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद के अनुसार कटिहार का वायु गुणवत्ता सूचकांक 392, पटना का 316, आरा का 317, अररिया का 355, भागलपुर का 340, छपरा का 323 और सहरसा का 353 रहा। वहीं राजगीर का 285, गया 275, हाजीपुर 264, किशनगंज 253 मुजफ्फरपुर शहर का वायु गुणवत्ता सूचकांक 243 रहा।

पटना के गांधी मैदान का 430, समनपुरा का 370, दानापुर का 352, राजवंशी नगर का 310, पटना सिटी का 258 तथा तारामंडल क्षेत्र का 192 वायु प्रदूषण सूचकांक रहा। अधिकारियों का कहना है कि हवा में धूलकण की मात्रा अधिक होने के कारण प्रदूषण का स्तर अधिक होते जा रहा है। गांधी मैदान में इन दिनों लोगों की भीड़ अधिक हो रही है। गंगा किनारे से भी धूलकण हवा में उड़ रहे हैं। इसके अलावा इस क्षेत्र में सरकारी और गैर सरकारी संस्थान या भवन का हो रहे निर्माण कार्य के कारण प्रदूषण का स्तर काफी अधिक है। 


बिहार के तमाम जिलों में मंगलवार 19 दिसंबर सुबह 8 बजे का एक्यूआई

शहर                     वायु गुणवत्ता सूचकांक
पटना                         380
कटिहार                     376
अररिया                     362
भागलपुर                    341
मुजफ्फरपुर                308
गया                          293
छपरा                        320
आरा                         333
हाजीपुर                     261
मोतिहारी                   220
बिहार शरीफ              167
सासाराम                   129


वायु गुणवत्ता सूचकांक का स्तर कितना खतरनाक, यहां जानें
AQI 0-50 है तो हवा अच्छी है
AQI 51-100 है तो हवा ठीक है लेकिन संवेदनशील लोगों को सांस में हल्की परेशानी हो सकती है
AQI 101-200 है तो हवा अच्छी नहीं है, फेफड़े और दिल के मरीजों को सांस लेने में दिक्कत हो सकती है
AQI 201-300 है तो हवा खराब है, किसी भी व्यक्ति को सांस की दिक्कत हो सकती है
AQI 301-400 है तो हवा बहुत खराब है, सांस की बीमारी हो सकती है
AQI 401-500 है तो हवा खतरनाक है, स्वस्थ व्यक्ति भी बीमार पड़ सकता है

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें