ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारBihar Top News: सीएम नीतीश ने परिवार संग मनाया छठ, डूबते सूर्य को दिया अर्घ्य, लंदन से डबलिन तक महापर्व की धूम

Bihar Top News: सीएम नीतीश ने परिवार संग मनाया छठ, डूबते सूर्य को दिया अर्घ्य, लंदन से डबलिन तक महापर्व की धूम

Bihar Top News: छठ महापर्व का तीसरा दिन है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को एक अन्ने मार्ग में अपने परिजनों के साथ छठ महापर्व मनाया। इस दौरान उन्होंने अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया।

Bihar Top News: सीएम नीतीश ने परिवार संग मनाया छठ, डूबते सूर्य को दिया अर्घ्य, लंदन से डबलिन तक महापर्व की धूम
Sudhir Kumarलाइव हिंदुस्तान,पटनाSun, 19 Nov 2023 04:00 PM
ऐप पर पढ़ें

Bihar Top News: बिहार में  लोक आस्था के महापर्व चार दिवसीय छठ शुरू हो गया है। आज तीसरे दिन शाम में पहले दिन का अर्ध्य सूर्य भगवान सूर्य को अर्घ्य दे रहे हैं। वहीं सीएम नीतीश कुमार ने भी परिवार के साथ छठ मनाया। और सूर्य को अर्घ्य दिया। पाटलिपुत्र से बीजेपी के सांसद और कभी लालू प्रसाद यादव के हनुमान कहे जाने वाले रामकृपाल यादव शांत और सौम्य प्रकृति के नेता हैं। लेकिन शनिवार को उनका रौद्र रूप देखा गया। आस्था के महापर्व छठ को लेकर अशोक राजपथ से मरीन ड्राइव तक यातायात व्यवस्था बदली रहेगी। जेपी गंगा पथ (मरीन ड्राइव) पर सिर्फ आपातकालीन वाहन ही जा सकेंगे। जबकि अशोक राजपथ पर आम वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। रक्सौल से हावड़ा जाने वाली 13022 मिथिल एक्सप्रेस में शनिवार को 46 मिनट के अंतराल पर ब्रेक बाइंडिंग की तीन घटनाएं हुईं। इसके कारण पहिए से चिंगारी व धुआं उठने लगा। 19 नवंबर 2023 की बिहार की बड़ी खबरें पढ़िए।

सीएम नीतीश ने परिवार संग मनाया छठ, डूबते सूर्य को दिया अर्घ्य

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को एक अन्ने मार्ग में अपने परिजनों के साथ छठ महापर्व मनाया। इस दौरान उन्होंने अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया। ये आयोजन पूरी तरह पारिवारिक था। जिसमें नीतीश के भाई और बहनों का पूरा परिवार शामिल हुआ था। आपको बता दें राज्य में तकरीबन 2.97 करोड़ परिवारों में से 80 लाख से अधिक परिवारों में छठ महापर्व मनाया जा रहा है। शाम को डूबते सूर्य को छठ व्रती अर्घ्य देंगे। 

छठ पूजा पर सुबह-शाम अर्घ्य देने की जानें सही टाइमिंग, कब-किस जिले में होगा सूर्यास्त-सूर्योदय?

लोक आस्था के महापर्व छठ का उत्साह खरना के साथ उत्कर्ष पर पहुंच गया। जानकारी के मुताबिक, बिहार में तकरीबन 2.97 करोड़ परिवारों में से 80 लाख से अधिक परिवारों में छठ महापर्व मनाया जा रहा है। एक-एक परिवार में चार-पांच तक व्रती हैं, जो जलाशयों में कर जोर समभाव से रविवार को अस्ताचलगामी तथा सोमवार को उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देंगे। राज्य के तमाम नदी, नहर, झील, तालाब, पोखर, सरोवरों के अलावा घरों की छतों पर सूर्यदेव को अर्घ्य देने की तैयारी है।अब पूरी खबर पढ़िए

लंदन से डबलिन तक छठ की छटा; बिहार से आई पूजा सामग्री, विदेश में खरना, गूंजे महापर्व के गीत

वैसे तो पूरे बिहार में छठ महापर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है। लेकिन लोक आस्था के पर्व छठ की छठा अब विदेशों में बिखेरी जा रही है। विदेशों में रहने वाले भारतीय प्रकृति के महापर्व को सात समंदर पार भी पवित्रता और आस्था के साथ मना रहे। इस वर्ष भी डबलिन(आयरलैंड), लंदन(इंग्लैंड), ओमान समेत अन्य देशों में रहने वाले भारतीय छठ महापर्व मना रहे। अब पूरी खबर पढ़िए

मॉर्निंग वॉक के दौरान बेसुध होकर गिरा जवान, मौके पर मौत, एक महीने में तीसरा केस

कई मामलों में डांस, खाते-पीते और वर्कआउट करते हुए लोग गिरते हैं और उनकी मौत हो जाती है। भागलपुर में दो माह के भीतर शनिवार को इस तरह की तीसरी मौत तिलकामांझी थाना क्षेत्र के हवाई अड्डा में हुई। पटना बीएमपी-5 में कार्यरत राजेश कुमार रजक शनिवार सुबह में मॉर्निंग वॉक के लिए हवाई अड्डा परिसर पहुंचे थे। टहलने के दौरान वे अचानक से गिर पड़े। जब तक लोग कुछ समझ पाते, उनकी मौत हो गई थी।अब पूरी खबर पढ़िए

जीतन मांझी ने बताया नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार में फर्क, बोले- तभी तो पीएम की दीवानी है दुनिया

हम के संस्थापक और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने एक बार फिर से सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा है। और उनकी तुलना पीएम नरेंद्र मोदी करते हुए हमला बोला। जीतन मांझी ने अपने एक्स हैंडल पर पीएम मोदी की महिलाओं के साथ खुद सेल्फी लेते हुए फोटो पोस्ट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तुलना कर डाली।अब पूरी खबर पढ़िए

पिकअप से टच हो गई बाइक, तो चल गईं गोलियां, फायरिंग में गर्भवती महिला की मौत

पटना में छोटी सी बात पर बड़ा बवाल हो गया। पिकअप से बाइक की हल्की टक्कर हो जाने पर दो पक्षों लाठी-डंडे चल गए। और दर्जनों राउंड फायरिंग हो गई। जिसमें गर्भवती महिला की गोली लगने से मौत हो गई। जबकि 3 लोग घायल हो गए। मनेर के सादिकपुर बगीचा गांव में पिकअप में टक्कर से गुस्साए लोगों ने शनिवार की सुबह दूसरे पक्ष पर गोलियां और लाठी डंडे से हमला कर दिया।अब पूरी खबर पढ़िए

छठ खरना के दिन मां-बेटे की मौत से मातम;  निशाने पर थे जंगली जानवर- फंस गए इंसान, पूरी कहानी पढ़ें
पूरा बिहार छठ महापर्व के उल्लास में है। इस बीच मुजफ्फरपुर में खरना के दिन मां और बेटे की मौत से एक परिवार तवाह हो गया। घटना सरैया थाना क्षेत्र के पहाड़पुर गांव की है। शनिवार की दोपहर खेत में लगाए गए बिजली के तार की चपेट में आने से मां-बेटे की मौत हो गई। उन्हें बचाने के दौरान करंट की चपेट में आने से मृतका के पति लक्ष्मण पासवान घायल हो गए। पूरी खबर पढ़ें।

लानत है ऐसे नाना पर! स्कूल में रिश्तेदार बताने पर तोड़ा मासुम का हाथ, मां को फरसा से काट मार डाला

बिहार के बेतिया में इंसान के रूप में जी रहे एक हैवान ने मामूली सी बात के लिए रिश्ते के एक नाती का हाथ तोड़ दिया तो उसकी मां को काटकर मौत के घाट उतार दिया। घटना शिकारपुर थाने के बेलबनिया गांव में शुक्रवार शाम की है। वजह जानकर आपको भी ऐसे नाना पर घिन आ जाएगी। पुलिस मामले की जांच कर रही है। स्कूल में शिक्षक के दिए टास्क में परिवार के रूप में चचेरे नाना का नाम लिखने के विवाद में मासूम का हाथ तोड़ दिया गया। वहीं, पूछने गई मासूम की मां की फरसा से काटकर हत्या कर दी गई। पूरी खबर पढ़ें

संध्या अर्घ्य आज, गंगाघाट को 21 सेक्टर में बांट कड़ी निगरानी; NDRF और SDRF तैनात

बिहार में  लोक आस्था के महापर्व चार दिवसीय छठ शुरू हो गया है। आज शाम को पहले दिन का अर्ध्य सूर्य भगवान को दिया जाएगा। छठ के पहले और दूसरे अर्घ्य के दिन सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किये गये हैं। बड़े घाटों पर ड्रोन से गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी।  शुक्रवार के दिन नहाय खाय के साथ छठ पूजा की शुरुआत हुई। शनिवार को दूसरे दिन खरना रखा गया। छठव्रती पूरे दिन व्रत करके शाम में खीर का प्रसाद ग्रहण किया। इसके साथ ही 36 घंटे का निर्जला व्रत शुरू हो गया। पूरी खबर पढ़ें।

तुम नौकर हो, बहुत शान में हो, दो मिनट में उतर जाएगा; MP रामकृपाल ने अधिकारी को क्यों लगाई फटकार?

पाटलिपुत्र से बीजेपी के सांसद और कभी लालू प्रसाद यादव के हनुमान कहे जाने वाले रामकृपाल यादव शांत और सौम्य प्रकृति के नेता हैं। लेकिन शनिवार को उनका रौद्र रूप देखा गया। सड़क में गड़बड़ी के सवाल पर उन्होंने पीडब्ल्यूडी के अधिकारी न सिर्फ क्लास लगा दी बल्कि तू तड़ाक वाले अंदाज में बात की। बीजेपी सांसद ने पटना डीएम से भी अधिकारी की बदतमीजी की शिकायत की। पूरी खबर पढ़ें।


छठ महापर्व पर पटना के ट्रैफिक रूट में कई फेरबदल, निकलने से पहले जान लें- किस रास्ते जाना ठीक होगा

आस्था के महापर्व छठ को लेकर अशोक राजपथ से मरीन ड्राइव तक यातायात व्यवस्था बदली रहेगी। जेपी गंगा पथ (मरीन ड्राइव) पर सिर्फ आपातकालीन वाहन ही जा सकेंगे। जबकि अशोक राजपथ पर आम वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। करगिल चौक से पूरब पटनासिटी दीदारगंज तक किसी भी प्रकार के वाहनों के परिचालन पर रोक है। आज पहले दिन का अर्घ्य है। शाम को व्रती भगवान भाष्कर को संध्या अर्घ्य देंगे।पूरी खबर पढ़ें।

राशन कार्ड से आधार लिंक कराने का अंतिम मौका, जानें आखिरी तारीख; उसके बाद कटेगा नाम-नहीं मिलेगा अनाज

खाद्य सुरक्षा के तहत सरकार गरीबों को मुफ्त अनाज दे रही है। इसमें गड़बड़ी रोकने के लिए सभी लाभुकों का आधार कार्ड  राशन कार्ड से लिंक करने का आदेश जारी किया गया है। इस अनिवार्य बताते हुए कहा गया है कि जिनके आधार लिंक नहीं होंगे उनका राशन बंद हो जाएगा। बिहार में अभी तक 88 फीसदी राशन कार्ड आधार से लिंक हो पाए हैं। जनता की परेशानी देखते हुए एक मौके फिर दिया गया है। हालांकि इसे आखिरी मौका भी बता दिया गया है। पूरी खबर पढ़ें।

बड़े हादसे से बाल बाल बची मिथिला एक्सप्रेस, 46 मिनट में तीन बार ब्रेक बाइंडिंग से लगी आग

रक्सौल से हावड़ा जाने वाली 13022 मिथिल एक्सप्रेस में शनिवार को 46 मिनट के अंतराल पर ब्रेक बाइंडिंग की तीन घटनाएं हुईं। इसके कारण पहिए से चिंगारी व धुआं उठने लगा। धुआं निकलता देख ट्रेन में सवार यात्रियों में अफरातफरी मच गयी। लोग चिल्लाने लगे और गाड़ी रुकते ही यात्री कूदकर बाहर भागने लगे। किसी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ। पूरी खबर पढ़ें।

बिहार के 94 लाख परिवारों को 2 लाख रुपये कैसे मिलेंगे, आवेदन से लेकर चयन तक पूरी प्रक्रिया जानें

बिहार के लगभग 94 लाख परिवारों को नीतीश सरकार 2-2 लाख रुपये देने जा रही है। राज्य में कराए गए जातिगत एवं आर्थिक सर्वे की रिपोर्ट आने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा यह घोषणा की गई थी। राज्य कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद अब इस योजना लागू हो गई है। इसका नाम बिहार लघु उद्यमी योजना है। इसके तहत गरीब परिवारों को रोजगार से जोड़ने के लिए सरकार की ओर से दो लाख रुपये की मदद दी जाएगी। इसका लाभ जनरल, एससी, एसटी, ओबीसी, ईबीसी सभी वर्गों के गरीबों को मिलेगा। पूरी खबर पढ़ें।

चार विश्वविद्यालयों के वीसी समेत आला अधिकारियों के वेतन का ब्योरा तलब, शिक्षा विभाग हरकत में आया

शिक्षा विभाग ने बिहार के चार विश्वविद्यालयों के कुलपति, प्रति कुलपति, वित्त परामर्शी, वित्त पदाधिकारी, कुलसचिव एवं अन्य कर्मियों के वेतन भुगतान का ब्योरा तलब किया है। इसके लिए उच्च शिक्षा निदेशालय ने संबंधित विश्वविद्यालयों को फॉर्मेट भी जारी किये हैं। दरअसल, रिटायर होने के बाद भी चार विश्वविद्यालयों में कार्यरत कुलपति, प्रति कुलपति, वित्त परामर्शी, वित्त पदाधिकारी, कुलसचिव एवं अन्य कर्मियों को पेंशन की राशि घटाये बिना ही वेतन भुगतान का मामला सामने आया है। उन्हें अनुमान्य राशि से अधिक भुगतान किया गया है। पूरी खबर पढ़ें।

बिहार बीजेपी की एनआरआई सेल का विस्तार, सम्राट चौधरी ने मुंबई से लेकर दुबई, अमेरिका तक बनाए पदाधिकारी

बिहार बीजेपी ने अपनी एनआरआई सेल का विस्तार किया है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी और संगठन महामंत्री भीखू भाई दलसानिया के निर्देश पर पार्टी की एनआरआई सेल के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य के नामों की घोषणा की गई है। एनआरआई सेल के संयोजक मनीष सिन्हा ने कहा कि तीन सह-संयोजक बनाए गए हैं। वहीं, 22 सदस्यों को कार्यसमिति का सदस्य मनोनित किया गया है। पूरी खबर पढ़ें।

94 लाख परिवारों को 2 लाख देने की शर्तें छलावा; बीजेपी बोली- हर महीने 10 हजार दे नीतीश सरकार
बिहार के 94 लाख परिवारों को दो-दो लाख रुपये की सहायता राशि देने की नीतीश सरकार की योजना को बीजेपी नेता विजय सिन्हा ने छलावा बताया है। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष सिन्हा ने शनिवार को कहा कि बिहार लघु उद्यमी योजना में जो शर्तें हैं वो एक तरह का झोल है। दो लाख रुपये देने से कोई गरीब व्यक्ति उद्यमी कैसे बन सकता है। इसके बजाय हर गरीब परिवार को 10 हजार रुपये का गुजारा भत्ता दिया जाना चाहिए। पूरी खबर पढ़ें।

बिहार के 4 लाख नियोजित शिक्षकों को तीन महीने से वेतन नहीं मिला, कर्ज लेकर छठ मना रहे : सुशील मोदी

बिहार के करीब चार लाख नियोजित शिक्षकों को बीते तीन महीने से वेतन नहीं मिला है। पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने यह दावा किया है। उन्होंने कहा कि नीतीश सरकार चार लाख नियोजित शिक्षकों को दशहरा, दिवाली, छठ जैसे बड़े त्योहारों से पहले वेतन नहीं दे पाई है। इसलिए उन्हें कर्ज लेकर त्योहार मनाना पड़ रहा है या फिर पर्व छोड़ना पड़ा है। पूरी खबर पढ़ें।

 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें