ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार18 जून से बिहार के स्कूल खुलेंगे या बढ़ेगी बंदी की मियाद? गर्मी पर पटना डीएम का आया बयान

18 जून से बिहार के स्कूल खुलेंगे या बढ़ेगी बंदी की मियाद? गर्मी पर पटना डीएम का आया बयान

राज्य में हीटवेव के अलर्ट के बीच स्कूलों को मंगलवार से खोलने की बात चल रही है। सोमवार को पटना के डीएम शीर्षत कपिल अशोक का अहम बयान सामने आया। उन्होंने कहा कि इस संबंध में शिक्षा विभाग से बात चल रही है

18 जून से बिहार के स्कूल खुलेंगे या बढ़ेगी बंदी की मियाद? गर्मी पर पटना डीएम का आया बयान
delhi school children file photo
Sudhir Kumarलाइव हिन्दुस्तान,पटनाMon, 17 Jun 2024 10:25 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार इन दिनों भीषण गर्मी की चपेट में है। जून महीने में स्कूल खुले होने की वजह से बड़ी संख्या में छात्र छत्राएं और शिक्षक बीमार हुए। कई छात्र तो स्कूलों में ही बेहोश हो गए। इसे देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आदेश पर 15 जून तक सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को बंद करने का आदेश जारी कर दिया गया। 18 जून मंगलवार से एक बार फिर राज्य के सभी विद्यालय खुलने वाले हैं जबकि गर्मी का कहर अभी बरकरार है। इसे लेकर शिक्षक संगठनों ने स्कूलों को आगे भी बंद रखने की मांग की है। इसे देखते हुए सरकार कोई नया फैसला ले सकती है। बता दें कि मौसम विभाग की ओर से राज्य में एक दो दिनों तक भीषण गर्मी का रेड 
अलर्ट जारी किया गया है। केके पाठक के आदेश पर इस साल स्कूलों में गर्मी की छुट्टी शिक्षकों को नहीं दी गयी।

राज्य में हीटवेव के अलर्ट के बीच स्कूलों को मंगलवार से खोलने की बात चल रही है। सोमवार को पटना के डीएम शीर्षत कपिल अशोक का अहम बयान सामने आआ। उन्होंने बताया कि पूर्व के आदेश के अनुसार मंगलवार 18 जून से सभी स्कूलों और कॉलेजों को खोलने की बात है। आगे  स्कूल चलेंगे या बंद रखा जाए इस पर एक दो दिनों में फैसला लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इसे लेकर शिक्षा विभाग से बात हो रही है। मौसम को देखते हुए जिला शिक्षा पदाधिकारी के साथ वार्ता की जा रही है। स्थिति के अनुसार फैसला लिया जाएगा। शिक्षा विभाग के नोटिफिकेशन की मियाद आज पूरी हो रही है। तो इस पर जल्द फैसला ले लिया जाएगा।

इसे भी पढ़ें- रोहिणी आचार्या प्रवासी पक्षी और तेजस्वी यादव हैं बेरोजगार मंत्री; नीतीश के मंत्री ने लालू परिवार पर साधा निशाना
 

इस साल सरकारी स्कूलों में गर्मी की छुट्टी अप्रैल-मई महीने में दी गई थी लेकिन तब भी शिक्षकों को स्कूलों में जाना था। मई महीने में चुनाव हुए। मई और जून में स्कूलों को खोल दिया गया। लेकिन अत्यधिक गर्मी के कारण बच्चे बीमार होने लगे। शिक्षक गर्मी से बीमार हो रहे थे। इसे देखते हुए 11 जून से 15 जून तक छुट्टी दे दी गई। कहा जा रहा था कि 15 जून तक मानसून से बारिश के बाद तापमान सामान्य हो जाएगा और 18 जून से स्कूलों को खोल दिया जाएगा। लेकिन मानसून में देरी के कारण गर्मी का सितम बरकरार है। ऐसे में शिक्षक संगठनों ने स्कूलों में छुट्टी को मानसून आने तक छुट्टियों को विस्तारित किया जाए। शिक्षकों की मांग और मौसम को देखते हुए शिक्षा विभाग को भी अहम फैसला ले सकता है। शिक्षकों के साथ छात्रों को भी इसका इंतजार है।