ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारहत्याकांड में फरार कुख्यात अठिया गिरफ्तार, दो हत्याकांडों का खुलासा, आरोपियों के खिलाफ स्पीडी ट्रायल चलाने की प्रक्रिया शुरू

हत्याकांड में फरार कुख्यात अठिया गिरफ्तार, दो हत्याकांडों का खुलासा, आरोपियों के खिलाफ स्पीडी ट्रायल चलाने की प्रक्रिया शुरू

दो अलग-अलग हत्याकांडों में वांछित कुख्यात आशीष सिंह उर्फ अठिया को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। शनिवार को एसपी दया शंकर ने दोनों हत्याकांडों का खुलासा करते हुए कुल आठ लोगों की गिरफ्तारी की जानकारी...

हत्याकांड में फरार कुख्यात अठिया गिरफ्तार, दो हत्याकांडों का खुलासा, आरोपियों के खिलाफ स्पीडी ट्रायल चलाने की प्रक्रिया शुरू
Malay Ojhaपूर्णिया। हिन्दुस्तान संवाददाताSat, 22 Jan 2022 10:01 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

दो अलग-अलग हत्याकांडों में वांछित कुख्यात आशीष सिंह उर्फ अठिया को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। शनिवार को एसपी दया शंकर ने दोनों हत्याकांडों का खुलासा करते हुए कुल आठ लोगों की गिरफ्तारी की जानकारी दी। पूर्व जिप सदस्य विश्वजीत सिंह उर्फ रिंटू सिंह और सहरसा के चैनपुरा निवासी दारोगा पुत्र नीरज कुमार झा की हत्या में अठिया के शामिल होने की बात पुलिस ने कही है। एसपी ने यह भी कहा कि हत्याकांडों के पीछे कोई राजनीतिक साजिश नहीं है। आपसी वर्चस्व में रिंटू सिंह की हत्या की गई, जबकि नीरज की हत्या के पीछे बस स्टैंड से वसूली कारण बना।

एसपी ने कहा, पूछताछ के क्रम में कुख्यात अठिया ने बताया है कि आपसी वर्चस्व और रंजिश को लेकर पूर्व जिला परिषद सदस्य विश्वजीत कुमार सिंह उर्फ रिंटू सिंह की हत्या की गई थी।  इसके अलावा बेनी सिंह की हत्या भी आपसी रंजिश की वजह से ही की गई थी । कांड में कई अन्य लोग भी शामिल थे।  घटना को अंजाम देने के बाद वह पहले नवगछिया में जाकर छिपा। फिर वहां से कई इंदौरा सहित अन्य कई जगहों पर जाकर छिपता रहा। आखिरकार हरदा के एक लाइन होटल से पकड़ा गया।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस हत्याकांड से किसी भी राजनीतिक रंजिश की बात अभी तक सामने नहीं आई है। पूछताछ  के क्रम में सभी अपराधियों ने आपसी रंजिश और वर्चस्व को लेकर ही हत्या करने की बात कही है । जांच अभी जारी है। कुछ अन्य लोग गिरफ्त में आ सकते हैं। पुलिस की टीम के द्वारा इस मामले को लेकर भी अनुसंधान तेजी से किया जा रहा है। पुलिस को माकूल साक्ष्य मिले हैं, जिसके आलोक में स्पीडी ट्रायल करवाने के लिए कागजी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

epaper