DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  राहत: 58 दिनो बाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल में थमा मौत का सिलसिला, 4 अप्रैल को हुई थी पहली मौत

बिहारराहत: 58 दिनो बाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल में थमा मौत का सिलसिला, 4 अप्रैल को हुई थी पहली मौत

निज संवाददाता,गयाPublished By: Sneha Baluni
Tue, 01 Jun 2021 08:07 AM
राहत: 58 दिनो बाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल में थमा मौत का सिलसिला, 4 अप्रैल को हुई थी पहली मौत

गया जिले के अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल के लिए सोमवार का दिन राहत भरा रहा। पिछले 58 दिनों के बाद पिछले 24 घंटे में अस्पताल में भर्ती एक भी मरीज की मौत नहीं हुई जो राहत भरा है। इसके पहले 4 अप्रैल को टिकारी के एक मरीज की मौत हुई थी। इसके बाद मौत का सिलसिला शुरू हो गया। जो किसी दिन रूका नहीं। इतना ही नहीं प्रतिदिन मौत के आंकड़ों में भी इजाफा होता रहा। लेकिन सोमवार को अस्पताुल में एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है। 

कोरोना वार्ड के नोडल पदाधिकारी डॉ. एन के पासवान ने बताया की सोमवार को एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है। जो राहत भरा है। उन्होंने बताया कि अस्पताल में वर्तमान समय में 54 मरीज इलाजरत है। सोमवार को 4 नए मरीज भर्ती हुए। वहीं एक मरीज स्वस्थ होकर घर भी गया। यहां भर्ती मरीजों में से 17 आइसीयू वार्ड में भर्ती है। वही 4 बाइपैप पर है। जिले में कोरोना संक्रमण की दर में कमी आने के साथ अस्पताल में भी मरीजों की संख्या में कमी आई है।

ब्लैक फंगस में इस्तेमाल होने वाले पोसोकोना जोल की हुई मांग
उन्होने बताया कि वर्तमान समय में मेडिकल कॉलेज अस्पताल के ईएनटी वार्ड में एक ब्लैक फंगस संदिग्ध भर्ती है। उसका एमआरआई कराया गया है। लेकिन अभी कुछ अन्य टेस्ट के रिपोर्ट आनी बाकी है।

संबंधित खबरें