ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारलोकसभा चुनाव के आखिरी चरण का प्रचार आज थमेगा, बिहार की 3 सीटों पर त्रिकोणीय तो पांच पर सीधी लड़ाई

लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण का प्रचार आज थमेगा, बिहार की 3 सीटों पर त्रिकोणीय तो पांच पर सीधी लड़ाई

लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के प्रचार का शोर गुरुवार शाम को थम जाएगा। इस चरण में बिहार की पाटलिपुत्र, पटना साहिब, नालंदा, जहानाबाद, आरा, बक्सर, सासाराम और काराकाट सीट पर 1 जून को मतदान होगा।

लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण का प्रचार आज थमेगा, बिहार की 3 सीटों पर त्रिकोणीय तो पांच पर सीधी लड़ाई
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,पटनाThu, 30 May 2024 07:23 AM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव 2024 के सातवें और आखिरी चरण के प्रचार का शोर गुरुवार शाम को थम जाएगा। इस चरण में बिहार की 8 सीटों पर 1 जून को मतदान होना है। इनमें नालंदा, पटना साहिब, पाटलिपुत्र, आरा, बक्सर, सासाराम, काराकाट और जहानाबाद लोकसभा शामिल है। 8 में से तीन सीटें काराकाट, बक्सर और जहानाबाद में त्रिकोणीय लड़ाई है। शेष पांच सीटों पर एनडीए एवं इंडिया गठबंधन के उम्मीदवारों के बीच सीधी टक्कर है। आखिरी चरण में केंद्रीय मंत्री आरके सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा, रामकृपाल यादव, रविशंकर प्रसाद और आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद की बेटी मीसा भारती की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। 

दिल्ली की गद्दी के लिए बीते ढाई माह से जारी जंग अंतिम पड़ाव में है। बिहार में अंतिम चरण की सभी सीटें एनडीए के पास है। एनडीए ने इन सीटों को बचाने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। वहीं, महागठबंधन ने भी इन सीटों पर कब्जे के लिए मजबूत लड़ाई लड़ रही है। इस चरण में भाजपा के केंद्रीय मंत्री आरके सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, सांसद रामकृपाल यादव और पूर्व मंत्री के बेटे शिवेश कुमार, पूर्व विधायक मिथिलेश तिवारी, पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा, सांसद मीसा भारती, पूर्व मंत्री सुधाकर सिंह, सुरेंद्र यादव, ददन पहलवान, पूर्व सांसद अरुण कुमार, सांसद चंदेश्वर प्रसाद, पूर्व लोस अध्यक्ष मीरा कुमार के पुत्र अंशुल अभिजीत की किस्मत ईवीएम में बंद होगी। 

बिहार की आठों सीटों पर कुल 134 उम्मीदवार मैदान में हैं। इसमें 122 पुरुष और 12 महिला हैं। 23 राष्ट्रीय एवं राज्यस्तरीय दलों के तथा 68 निबंधित दलों के एवं 43 निर्दलीय प्रत्याशी भाग्य आजमा रहे हैं। सबसे अधिक नालंदा में 29 और सबसे कम सासाराम में 10 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। बसपा के 8, कांग्रेस के 2, राजद के 3, जदयू के 2, भाजपा के 5 और भाकपा-माले के 3 उम्मीदवार हैं।

पहले जेडीयू, फिर पवन सिंह, अब मीसा भारती; सबका प्रचार कर रहे हैं खेसारी लाल यादव

तीन सीटों पर त्रिकोणीय लड़ाई
आखिरी चरण में बिहार की तीन लोकसभा सीटों पर त्रिकोणीय लड़ाई देखने को मिल सकती है। काराकाट लोकसभा सीट पर एनडीए के उपेंद्र कुशवाहा और महागठबंधन से सीपीआई माले के राजाराम सिंह कुशवाहा मैदान में हैं। बीजेपी के बागी भोजपुरी स्टार पवन सिंह भी निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं, जिससे त्रिकोणीय मुकाबला हो गया है। वहीं, बक्सर में बीजेपी के मिथिलेश तिवारी और आरजेडी के सुधाकर सिंह के अलावा पूर्व आईपीएस आनंद मिश्रा चुनावी मैदान में हैं। इसी तरह जहानाबाद में आरजेडी से पूर्व मंत्री सुरेंद्र यादव और जेडीयू के चंद्रेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी के साथ पूर्व सांसद अरुण कुमार भी बसपा के टिकट पर मैदान में उतरे हैं, जिससे चुनावी समर दिलचस्प बन गया है।

कभी तंज का दौर चला तो कभी चेतावनी का
चुनाव प्रचार के दौरान ऐसे कई मौके आए जब तनातनी का माहौल रहा। कभी तंज का दौर चला तो कभी चेतावनी का। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चेतावनी दी कि जिन्होंने भी बिहार को लूटने का काम किया है, उनके जेल जाने की उल्टी गिनती शुरू हो गयी है। तेजस्वी यादव ने कहा कि पीएम धमकी दे रहे हैं पर वह जान लें कि बिहार के लोग किसी से डरते नहीं हैं। तंज कसते हुए पीएम ने कहा कि लालटेन लेकर जो मुजरा करने वाली जमात है, ये बिहारियों के अपमान के बाद भी कांग्रेस के चरण चूम रही है। वहीं कांग्रेस पर कहा कि चार जून के बाद शाही परिवार छुट्टियां मनाने विदेश जाएगा। योगी आदित्यनाथ के बिहार दौरे पर तेजस्वी ने कहा कि बिहार में नॉर्थ कोरिया के किम जोंग को भी बुला ले भाजपा। कभी आरक्षण पर तो कभी परिवार की संख्या पर भी तंज कसे गए।

बहुत टाइट है फाइट; जहानाबाद में पांच तरफा लड़ाई में फंसी जेडीयू, भूमिहार-यादव वोट का खेल

76 दिनों तक चली चुनावी जंग
बिहार में लोकसभा चुनाव को लेकर 76 दिनों तक चुनावी जंग चली। 16 मार्च 2024 को भारत निर्वाचन आयोग की घोषणा के साथ ही आचार संहिता लागू हो गई। पहले चरण के नामांकन की प्रक्रिया 20 मार्च से शुरू हुई, मतदान 19 अप्रैल को हुआ। दूसरे चरण का मतदान 26 अप्रैल, तीसरे चरण का 7 मई, चौथे चरण का 13 मई, पांचवें का 20 मई, छठे का 25 मई को हुआ। सातवें और अंतिम चरण का मतदान एक जून को होगा।