DA Image
16 जनवरी, 2021|6:00|IST

अगली स्टोरी

बिहार सरकार ने स्वास्थ्य मंत्रालय से मांगा जवाब, गया को कैसे रेड जोन में डाला

file pic

केन्द्र सरकार की तरफ से कोरोना के आ रहे नए मामलों के आधार पर देशभर में उन इलाकों का वर्गीकरण कर उसे अलग-अलग जोन में बांटा गया है। जिस इलाकों में ज्यादा केस आ रहे हैं उसे रेड और जहां काफी कम उसे ऑरेंज और जहां पर न के बराबर है उसे ग्रीन जोन बनाया गया है।

इस बीच बिहार सरकार ने गया को रेड जोन में रखने पर सवाल खड़े किए हैं। बिहार के स्वास्थ्य विभाग के प्रिंसिपल सचिव संजय कुमार ने कहा कि बिहार सरकार ने स्वास्थ्य मंत्रालय से स्पष्टीकरण मांगते हुए पूछा है कि जब गया में सिर्फ एक ही एक्टिव कोरोना केस है तो फिर उसे कैसे रोड जोन में डाला गया है।

बिहार में कोरोना संक्रमण के कुल मामले 536 

बिहार के पूर्णिया जिले में बुधवार को कोरोना संक्रमण का एक नया मामला प्रकाश में आने के साथ प्रदेश में कोविड-19 के मामले अब बढकर 536 हो गए। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बुधवार को बताया कि पूर्णिया जिले के जलालगढ निवासी 27 वर्षीय एक पुरुष में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है। 

ये भी पढ़ें: मजदूरों और छात्रों को निजी बसों से लौटने पर भी किराया देगी बिहार सरकार

बिहार के 38 जिलों में से 32 जिलों में कोविड-19 के मामले अब तक प्रकाश में आए हैं। बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले अब तक सबसे अधिक मुंगेर में 102, बक्सर में 56, रोहतास में 52, पटना में 44, नालंदा में 36, सिवान में 32, कैमूर में 31, मधुबनी में 23, गोपालगंज एवं भोजपुर में 18-18, बेगूसराय एवं औरंगाबाद में 13-13, भागलपुर एवं पश्चिम चंपारण में 11-11, कटिहार में 10, पूर्वी चंपारण में 09, सारण में 08, गया एवं सीतामढी में छह-छह, दरभंगा एवं अरवल में पांच-पांच, लखीसराय, नवादा एवं जहानाबाद में चार-चार, बांका एवं वैशाली में तीन-तीन, मधेपुरा, अररिया एवं पूर्णिया में दो-दो तथा शेखपुरा, शिवहर एवं समस्तीपुर में एक—एक मामले प्रकाश में आए हैं ।

बिहार में अब तक कोरोना वायरस के 30487 नमूनों की जांच की जा चुकी है और कोरोना संक्रमित 158 मरीज ठीक हुए हैं। गौरतलब है कि 21 मार्च को मुंगेर जिला निवासी कोरोना वायरस संक्रमित एक मरीज और 17 अप्रैल को वैशाली जिला निवासी एक मरीज की पटना एम्स में तथा एक मई को पूर्वी चंपारण जिला निवासी एक मरीज एवं दो मई को सीतामढी जिला निवासी कोरोना वायरस संक्रमित एक मरीज की नालंदा मेडिकल कालेज अस्पताल में मौत हो गई।

ये भी पढ़ें: लॉकडाउन-3: हजारों लोगों के सामने रोजी-रोटी का संकट, जानें जिलों का हाल

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bihar government seeks response from Health Ministry how Gaya categorised as red zone