Bihar flood live updates met says rainfall may happen in some districts - बिहार बाढ़ : बांध टूटने से मुजफ्फरपुर-समस्तीपुर शहर में घुसा पानी, बूढ़ी गंडक उफान पर DA Image
6 दिसंबर, 2019|9:14|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार बाढ़ : बांध टूटने से मुजफ्फरपुर-समस्तीपुर शहर में घुसा पानी, बूढ़ी गंडक उफान पर

Bihar flood

1 / 2Bihar flood

flood

2 / 2flood

PreviousNext

बिहार में बाढ़ का प्रकोप जारी है। राज्य के 18 जिले बाढ़ की चपेट में हैं। बाढ़ का कहर थमा भी नहीं था कि आज मौसम विभाग ने फिर से सुबे में बारिश की चेतावनी जारी कर दी है। गया, भागलपुर,अररिया, कटिहार दरभंगा और भी कई जिलों में बारिश की संभावना जताई है। अगर आज फिर से बारिश होती है तो जिलों की स्थिति और भी गंभीर हो जाएगी।

मुजफ्फरपुर के नये इलाकों में पानी का बहाव तीसरे दिन भी जारी 

-रजबाड़ा बांध टूटने के बाद शहर की ओर बढ़ने लगा पानी 

-नये इलाकों में पानी पहुंचने से मोहल्लेवासियों में दहशत 

-रजवाड़ा में टूटे तटबंध की मरम्मत का काम युद्धस्तर पर जारी 

 -समस्तीपुर में नहीं थम रहा है बाढ़ का कहर

- बूढ़ी गंडक और करेह में लगातार बढ़ रहा है पानी 

- हर रोज नए इलाकों में घुस रहा है पानी,चारों ओर तबाही ही तबाही 

- कल्याणपुर के तीन स्लूइस गेट पर नहीं रूक रहा है पानी का रिसाव 

-दरभंगा शहर का उत्तरी हिस्से में घुसा बाढ़ का पानी,स्थिति खतरनाक 

- एनएच के पुलों से होकर आ रहा है शहर में पानी 

- बीस से अधिक मोहल्लों में घुसा पानी,प्रशासन ने किया अलर्ट 

-बेतिया पानी उतरने के बाद रेल और सड़क मार्ग को चालू करने प्रयास तेज 

- डीएम के निर्देश पर शहर के तीन अनुमंडलों में कैंप कर रहे हैं इंजीनियर 

- कल से चलेगी मुजफ्फरपुर-नरकटियागंज रूट पर  ट्रेनें 

-क्षतिग्रस्त ट्रैकों को ठीक करने के लिए चल रहा है दिन-रात काम 

- रेलवे अधिकारियों ने कहा आज शाम तक मिल जाएगी एनओसी 

इधर, समस्तीपुर और मुजफ्फरपुर शहर में भी बाढ़ का पानी घुस गया है। रविवार का दिन गांववालों के लिए दहशत भरा रहा। उफनाई बूढ़ी गंडक का पानी रविवार को शहर के कई निचले इलाकों में घुस गया। शहर से सटे मुशहरी के रजवाड़ा में शनिवार देर रात बूढ़ी गंडक का दायां तटबंध टूटने से आसपास की 12 पंचायतें जलमग्न हो गईं। 

VIDEO में देखिए बाढ़ पीड़ितों को कितनी मिली सरकारी राहत, एक रिपोर्ट

उधर,गोपालगंज जिले में सिधवलिया व बैकुंठपुर के नए इलाके में पानी फैल गया है। वहां सेना के जवान राहत कार्य में लग गए हैं। कोसी व सीमांचल के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में तेज धूप व जमा पानी के सड़ने से महामारी की आशंका बढ़ गई है। मुजफ्फरपुर में बाढ़ के पानी से राष्ट्रीय लीची अनुसंधान केंद्र की दीवार ढह गई। दोपहर तक मुशहरी थाना, पीएचसी, पशु अस्पताल के अलावा कई स्कूलों में भी पानी घुस गया। इस आपदा से लगभग 50 हजार की आबादी प्रभावित हुई है। यहां का पानी तेजी से शहर की ओर बढ़ रहा है। इससे शहर के पूर्वी क्षेत्र पर खतरा है।

VIDEO: तबाही के निशां बाकी, टापू पर जिंदगी बिताने को मजबूर बाढ़ पीड़ित

गौरतलब है कि बिहार में बाढ़ से मरने वालों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। बीते दिनों ये संख्या 200 के पार पहुंच गई। लाखों लोग गांव छोड़कर जा चुके हैं। सवा करोड़ से ज्यादा की आबादी बाढ़ से प्रभावित है। एनडीआरएफ की टीमें राहत कार्य में जुटी हैं। गोपालगंज, अररिया और किसनगंज में पानी का स्तर थोड़ा कम हुआ है, लेकिन मुजफ्फपुर और समस्तीपुर में पानी घुसने लगा है। लोगों में दशहत है कि अगर बारिश हुई तो कई और नदियां उफान पर आ जाएंगी। 

VIDEO : 'साहब! बाढ़ ने सबकुछ लील लिया, भूखे पेट को राशन की दरकार है

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bihar flood live updates met says rainfall may happen in some districts