DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  बिहार : जहरीली शराब पीने से ही हुई थी पांच की मौत, थानेदार व इंस्पेक्टर नपे

बिहारबिहार : जहरीली शराब पीने से ही हुई थी पांच की मौत, थानेदार व इंस्पेक्टर नपे

हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरPublished By: Shivendra Singh
Sun, 21 Feb 2021 05:51 AM
बिहार : जहरीली शराब पीने से ही हुई थी पांच की मौत, थानेदार व इंस्पेक्टर नपे

बिहार में कटरा के दरगाह टोले में जहरीली शराब पीने से ही पांच लोगों की मौत हुई है। मामले की जांच के लिए शनिवार को डीएम प्रणव कुमार व एसएसपी जयंतकांत समेत कई वरीय अधिकारी कटरा के दरगाह टोला पहुंचे। इस दौरान मृतक रामचंद्र मांझी व उसकी पत्नी मंजू देवी के परिजन खेलावन मांझी व अन्य ग्रामीणों ने शराब पीने से दोनों की मौत की बात अधिकारियों से कही। इनकी मौत बुधवार की रात हुई थी। गुरुवार रात विनोद मांझी, अजय मांझी, सोनल सिंह की मौत की बात सामने आई थी। पिछले दो दिनों में पुलिस व प्रशासन की जांच में बीमारी से ही मौत की बात बताई जा रही थी। शनिवार को एसएसपी जयंतकांत ने कहा कि शराब पीने से ही पांचों की मौत की बात अब सामने आई है। ये सभी खुद शराब बनाये थे और उसका सेवन भी किया था।

शराब से मौत का मामला तूल पकड़ता देख एसएसपी जयंतकांत ने कटरा थानेदार सिकंदर कुमार को निलंबित कर दिया है। वहीं सर्किल इंस्पेक्टर मिथिलेश कुमार झा को लाइन हाजिर कर दिया गया है। एसएसपी जयंतकांत ने बताया कि शराब पीने से मौत की बात सामने आने के बाद इस मामले में शराब बनाने वाले मुख्य आरोपित मुकेश सिंह व अन्य पर एफआईआर दर्ज कराई गई है। मुकेश के साले एवं मुकेश के सहयोगी प्रमोद की पत्नी को गिरफ्तार किया गया है। शराब पीने से मुकेश सिंह के पुत्र सोनल सिंह की भी मौत हो गई है। आरोपित की एक गाड़ी भी जब्त की गई है। पांच लोगों की मौत के बाद पुलिस ने कटरा व आसपास के इलाकों में शराब बनाने व बेचने के अड्डों पर दबिश बढ़ा दी है। शनिवार को कई ठिकानों पर छापेमारी की गई। दूसरी तरफ विधायक समेत कई जनप्रतिनिधियों ने दरगाह टोला में पहुंचकर ग्रामीणों से घटना की जानकारी ली। नेता शराब के खिलाफ पुलिसिंग पर सवाल उठाते रहे।  

एफआईआर में एक मृतक का भी नाम
पांच मृतकों रामचंद्र मांझी, मंजू देवी, अजय मांझी, विनोद मांझी और सोनल सिंह में से सिर्फ विनोद मांझी के शव को पुलिस बरामद कर सकी थी। अन्य शवों का परिजनों व ग्रामीणों ने आनन-फानन में दाह संस्कार कर दिया था। विनोद मांझी के शव का पोस्टमार्टम कराया गया। शव का बिसरा सुरक्षित रखा गया है। पुलिस को उसके केमिकल रिपोर्ट के आने का इंतजार है। इधर, शराब बनाने के मामले में दर्ज एफआईआर में मृतक सोनल सिंह का भी नाम शामिल किया गया।

जहरीले पेय पदार्थ पीने से हुई मौत: डीएम 
डीएम प्रणव कुमार ने कहा कि इस घटना की चिकित्सकीय जांच में यह बात सामने आ रही है कि मृतक किसी बीमारी से ग्रस्त नहीं थे। उनकी मौत किसी जहरीले पेय पदार्थ के पीने से हुई है। प्रारंभिक छानबीन में पता चला है कि पांचों ग्रामीणों ने किसी पेय पदार्थ का सेवन किया था जिसके बाद उनकी मौत हो गई। देसी शराब के नजरिये से भी मामले की छानबीन की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से बाकी बातें खुलेंगी।  

संबंधित खबरें