ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारBihar Crime: समस्तीपुर में मछली के पैसे के विवाद में मर्डर, ईंट से कूच-कूचकर मार डाला

Bihar Crime: समस्तीपुर में मछली के पैसे के विवाद में मर्डर, ईंट से कूच-कूचकर मार डाला

हार के समस्तीपुर जिले में मामूली विवाद को लेकर अधेड़ को गांव के ही मनबढ़ युवकों ने ईंट से कूच-कूचकर मार डाला। पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को हिरासत में लिया है और पूछताछ कर रही है।

Bihar Crime: समस्तीपुर में मछली के पैसे के विवाद में मर्डर, ईंट से कूच-कूचकर मार डाला
Malay Ojhaहिन्दुस्तान,समस्तीपुरMon, 26 Feb 2024 07:16 PM
ऐप पर पढ़ें

समस्तीपुर जिले के वारिसनगर थाना क्षेत्र के कशोर गांव में सोमवार सुबह मछली के पैसे के विवाद में ईंट मारकर बुजुर्ग की हत्या कर दी गयी। मामले में एक पक्ष के चार लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है। मृतक की पहचान लखनपट्टी पंचायत के कशोर गांव के वार्ड पांच निवासी रामप्रसाद सहनी (55) उर्फ बतही सहनी के रूप में हुई है। जानकारी के अनुसार, 25 फरवरी की शाम धनहर गांव के मछली बेचने वाले कशोर गांव आये थे। गांव के मुकेश कुमार व लालो सहनी ने उनसे मछली खरीदी लेकिन पैसा मांगने पर मारपीट कर जख्मी कर दिया।

इस पर राम प्रसाद व उसके परिवार के लोगों ने मारपीट करने वालों का विरोध किया था। जख्मी मछली विक्रेता की सूचना पर पंहुची पुलिस ने मामले की छानबीन की। शाम में राम प्रसाद के पुत्र अनिल सहनी ने पिता को पीटने वालों से कहा कि मछली खरीदी थी तो तो पैसा दे देना चाहिए था। इसी बात को लेकर दोनों में कहासुनी हुई। लोगों ने दोनों पक्ष को शांत करा दिया। दोनों का घर आस-पड़ोस में ही था। 26 फरवरी की सुबह फिर मछली का पैसा नहीं देने व पीटने के विवाद को लेकर मुकेश व लालो सहनी ने कुछ लोगों के साथ लाठी-डंडे लेकर रामप्रसाद सहनी व उसके परिजनों पर हमला कर दिया। इसी दौरान चलायी गयी ईंट से रामप्रसाद की मौके पर मौत हो गई। झगड़ा छुड़ाने गये कुछ लोगों को चोटें भी आईं। 

मारपीट में मौत की सूचना मिलते ही वारिसनगर थानाध्यक्ष निरंजन कुमार, अपर थानाध्यक्ष शशिशंकर कुमार ने घटनास्थल पर पंहुचकर मामले की छानवीन दी। पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में ले लिया है। इसमें आरोपी पक्ष की महिला व पुरुष सदस्य शामिल हैं। शव को पोस्टमार्टम के लिए समस्तीपुर सदर अस्पताल भेज दिया गया है। गांव में तनाव को देखते हुए पुलिस कैंप कर रही है।

थानाध्यक्ष निरंजन कुमार ने बताया कि मामले में कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है। आवेदन मिलने पर प्राथमिकी दर्ज कर समुचित कार्रवाई की जाएगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें