ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारBihar crime: मोतिहारी में अपराधियों ने दिनदहाड़े ठेकेदार को गोलियों से भूना, ड्राइवर को भी मारी गोली

Bihar crime: मोतिहारी में अपराधियों ने दिनदहाड़े ठेकेदार को गोलियों से भूना, ड्राइवर को भी मारी गोली

ठेकेदार जयप्रकाश प्रसाद डुमरियाघाट थाना क्षेत्र के सरोतर गांव के रहने वाले थे। शहर के छतौनी के बरियारपुर में अपना मकान बनाकर रहते थे। भवन निर्माण, पथ निर्माण व रैक प्वाइंट पर उनका ठेका चलता था।

Bihar crime: मोतिहारी में अपराधियों ने दिनदहाड़े ठेकेदार को गोलियों से भूना, ड्राइवर को भी मारी गोली
Malay Ojhaमोतिहारी हिन्दुस्तानMon, 16 May 2022 10:38 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

मोतिहारी जिले के चकिया बाइपास स्थित एक होटल के सामने सोमवार की शाम करीब साढ़े चार बजे कार में ही बैठकर खाना खा रहे ठेकेदार पर बाइक सवार बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग की। फायरिंग में ठेकेदार जयप्रकाश प्रसाद व चालक राधेश्याम को तीन- तीन गोलियां लगी। जख्मी हालत में ही चालक गाड़ी चलाकर छतौनी के एक निजी अस्पताल पहुंचा, जहां डॉक्टरों ने ठेकेदार को मृत घोषित कर दिया।

ठेकेदार डुमरियाघाट थाना क्षेत्र के सरोतर गांव के रहने वाले थे। शहर के छतौनी के बरियारपुर में अपना मकान बनाकर रहते थे। भवन निर्माण, पथ निर्माण व रैक प्वाइंट पर उनका ठेका चलता था। चालक राधेश्याम घोड़ासहन थाना क्षेत्र के भोड़हर गांव का निवासी है।

एसपी डॉ. कुमार आशीष ने बताया कि मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है। घटनास्थल से तीन खोखा बरामद किया गया है। बरामद खोखा के आधार पर अत्याधुनिक हथियार से गोली चलने की अभी पुष्टि नहीं हो रही है। बदमाशों के बारे में कुछ सुराग मिले हैं। उस आधार पर पुलिस छापेमारी कर रही है।

जख्मी चालक ने इलाज के दौरान पुलिस को बताया कि कार में दो ही लोग थे। वे लोग छतौनी से पटना जा रहे थे। रास्ते में चकिया स्थित हॉट मिक्सिंग प्लांट में एक घंटे तक रुके। वहां से चकिया बाइपास ओवरब्रिज के पास पहुंचे। एक होटल के सामने कार खड़ी कर खाना का ऑर्डर दिया गया। दोनों कार में बैठकर ही खाना खा रहे थे। इस बीच बाइक पर सवार दो युवक पहुंचे और पिस्टल से ताबड़तोड़ फायरिंग करने लगे। ठेकेदार के सिर में गोली लगी और वे सीट पर ही लुढ़क गये। 

फायरिंग में उसे भी गोली लगी। इसके बावजूद जब वह गाड़ी स्टार्ट कर भागने लगा तो बदमाशों ने पीछा कर साइड से फायरिंग की। कार के शीशे पर भी गोली लगी है। फिर भी वह जख्मी हालत में ही गाड़ी चलाते हुए छतौनी के निजी नर्सिंग होम पहुंचा। नर्सिंग होम पहुंचते ही डॉक्टरों ने ठेकेदार को मृत घोषित कर दिया। प्रथम दृष्टया पुलिस जांच में ठेकेदार को सिर, पेट व बांह में तीन गोलियों के निशान मिले हैं। वहीं चालक को पेट, बांह व पैर में गोली लगी है।

epaper