DA Image
11 अप्रैल, 2021|3:02|IST

अगली स्टोरी

सीएम नीतीश ने कहा, मैथिली की पढ़ाई शुरू होनी चाहिए व भोजपुरी की भी

nitish kumar  bihar

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में मैथिली की पढ़ाई शुरू होनी चाहिए, हम तो चाहते हैं कि भोजपुरी की भी पढ़ाई हो। उन्होंने कहा कि पहले भी हमने कहा है कि बिना मिथिला के विकास के बिहार का विकास असंभव है। 

नीतीश कुमार ने मंगलवार को बिहार विधान परिषद में भोजनावकाश के बाद राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव को लेकर चर्चा के बाद सरकार की ओर से उत्तर देने के क्रम में ये बातें कही। इसके बाद कांग्रेस के प्रेमचंद मिश्र ने धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान पेश किए अपने संशोधन प्रस्ताव को वापस ले लिया। 

इसके पूर्व प्रेमचंद मिश्र ने मुख्यमंत्री से मैथिली की पढ़ाई शुरू करने की मांग की थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल के दौरान मैथिली को संविधान की अष्टम सूची में शामिल कराने के लिए प्रस्ताव लेकर हम ही गए थे, जिस पर अटल जी ने संविधान संशोधन कर मैथिली को अष्टम सूची में शामिल किया था। सीएम नीतीश ने कहा कि शिक्षा मंत्री स्वयं मिथिला क्षेत्र के हैं और वे मैथिली की पढ़ाई शुरू किए जाने पर विचार करेंगे। वे देखेंगे कि आखिर क्या परेशानी आ रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:bihar cm nitish kumar said maithili studies should start and bhojpuri also