ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारअब देर नहीं, इंडिया गठबंधन की अगली बैठक में सबकुछ तय हो जाना चाहिए; नीतीश कुमार की दो टूक

अब देर नहीं, इंडिया गठबंधन की अगली बैठक में सबकुछ तय हो जाना चाहिए; नीतीश कुमार की दो टूक

बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि वे इंडिया गठबंधन की बैठक में शामिल होंगे। बैठक में सबकुछ जल्द तय करना होगा। इसमें अब विलंब नहीं होना चाहिए।

अब देर नहीं, इंडिया गठबंधन की अगली बैठक में सबकुछ तय हो जाना चाहिए; नीतीश कुमार की दो टूक
Malay Ojhaहिन्दुस्तान,पटनाWed, 06 Dec 2023 09:53 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि वे इंडिया गठबंधन की बैठक में शामिल होंगे। बैठक में सबकुछ जल्द तय करना होगा। इसमें अब विलंब नहीं होना चाहिए। मुख्यमंत्री बुधवार को पटना हाईकोर्ट के निकट डॉ. भीमराव आंबेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस पर आयोजित राजकीय समारोह के बाद पत्रकारों से बात कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम एक साल से विपक्षी एकजुटता में लगे हुए हैं। राज्यों के चुनाव में सभी पार्टियां अपनी-अपनी जीत के लिए लग जाती हैं। लेकिन, हम चाहते हैं कि आगे सब एकजुट होकर चुनाव लड़ें। अगली मीटिंग होगी तो हम फिर कहेंगे कि अब देर नहीं कीजिए। आपस में बैठकर सबकुछ जल्दी से तय कर लीजिए। नीतीश कुमार ने कहा कि खबर चल रही था कि हम इंडिया गठबंधन की बैठक में नहीं जा रहे हैं जबकि ऐसी कोई बात नहीं। मेरी तबीयत खराब थी, मुझे सर्दी-खांसी, बुखार लगा हुआ था। जब आगे बैठक होगी तो हम नहीं जायेंगे, यह संभव है जी? 

इंडिया गठबंधन का नेतृत्व करने से जुड़े सवाल पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री पद को लेकर मेरे बारे में अक्सर खबरें आती हैं। लेकिन मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि मेरी कोई इच्छा नहीं। हम पहले से ही लोगों की सेवा करते आ रहे हैं। हम राज्यहित में अपने काम में लगे रहते हैं। मुझे व्यक्तिगत रूप से कुछ नहीं चाहिए। हम केवल चाहते हैं कि विपक्ष एकजुट हो। अभी जो पार्टी केंद्र की सत्ता में है, उसके खिलाफ मिलकर चुनाव लड़ें। देशहित में सभी विपक्षी पार्टियां एकजुट हों। 

कांग्रेस को भी अच्छा वोट मिला है, एमपी-छत्तीसगढ़-राजस्थान में हार पर नीतीश का मरहम, बोले- PM रेस में नहीं

सीएम नीतीश ने कहा कि बिहार की गरीबी को देखते हुए बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिलना चाहिए। विशेष राज्य का दर्जा मिलेगा तो बिहार बहुत आगे बढ़ेगा। इससे यहां की गरीबी दूर होगी। बिहार काफी पौराणिक जगह है। देश में और देश के बाहर जो कुछ भी था, सबकुछ बिहार से ही शुरू हुआ था। हाल में हुए विधानसभा चुनाव परिणाम से संबंधित प्रश्न पर मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव में पिछली बार कांग्रेस उन राज्यों में जीती थी। कांग्रेस को इस बार भी अच्छा वोट आया है, लेकिन भाजपा जीती। तेलंगाना में कांग्रेस जीती है। इन सब चीजों पर कोई खास चर्चा की बात नहीं है।

केन्द्र सरकार पर नाराजगी व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वे लोग देश के इतिहास को बदलने में लगे हुए हैं। नयी पीढ़ी को आजादी की लड़ाई याद रखनी चाहिए। हमलोगों ने जाति आधारित गणना कराई। सिर्फ जातिगत गणना नहीं कराई बल्कि हर परिवार की आर्थिक स्थिति का भी पता लगाया। हिंदू, मुस्लिम, अनुसूचित जाति-जनजाति, पिछड़ा-अति पिछड़ा वर्ग, सवर्ण किसी भी जाति वर्ग का हो, सबका पता लगवाया। हर जाति में गरीबी है। पूरे देश में जातिगत जनगणना होती तो सबको काफी फायदा होता। एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार के लोग दूसरी जगहों पर जाकर काफी सेवा करते हैं। बिहार के लोग कहीं कोई गड़बड़ी नहीं करते हैं। सबलोग काफी अच्छा काम करते हैं, सेवा में लगे रहते हैं। बिहार के लोगों का स्वभाव बहुत अच्छा है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें