DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैबिनेट का फैसला: आशा कार्यकर्ताओं को प्रति माह एक हजार

आशा कार्यकर्ताओं और आशा फैसिलिटेटर को प्रति माह एक हजार रुपए अतिरिक्त पारितोषिक (अवार्ड) के रूप में राज्य सरकार देगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में बुधवार को हुई राज्य कैबिनेट की बैठक में यह निर्णय लिया गया। राज्य में आशा कार्यकर्ताओं की संख्या 94 हजार 249 और आशा फैसिलिटेटर की संख्या चार हजार 685 है। इस फैसले से राज्य सरकार को सालाना 118 करोड़ 72 लाख खर्च करना पड़ेगा। 

आशा कार्यकर्ताओं के लिए निर्धारित छह कार्यों में से कम-से-कम चार कार्य अनिवार्य रूप से करने वाले को ही पारितोषिक दिया जाएगा। गौरतलब हो कि स्वास्थ्य विभाग के अधीन ये सभी कार्य करती हैं। अभी तक इन्हें कोई एकमुश्त तय राशि नहीं मिलती थी। अलग-अलग कार्य के लिए इन्हें राशि मिलती थी। ये राशि पूर्व की तरह आगे भी मिलती रहेंगी। अब इन सभी को प्रति माह एक हजार रुपए पारितोषिक भी मिलेगा। कैबिनेट में कुल 18 प्रस्तावों पर मुहर लगी। 

आशा कार्यकर्ताओं को पूर्व से मिलने वाली प्रमुख राशि 
टीकाकरण - प्रति बच्चा 100 रुपये 
प्रसव (भाड़ा इत्यादि सहित) - प्रति मरीज 600 रुपये 
बंध्याकरण - प्रति मरीज 300 रुपये 
बैठक - 150 रुपये प्रति बैठक 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bihar Cabinet decision: Asha workers get one thousand rupees per month