ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार2025 से पहले होगा बिहार विधानसभा का चुनाव, आरसीपी सिंह का दावा; वजह भी बताई

2025 से पहले होगा बिहार विधानसभा का चुनाव, आरसीपी सिंह का दावा; वजह भी बताई

आरसीपी सिंह ने दावा करते हुए कहा है कि बिहार विधानसभा का चुनाव 2025 में नहीं होगा। 2024 के लोकसभा चुनाव में नीतीश कुमार बुरी तरह हारेंगे और फिर इनका जो गठबंधन है, वह खत्म हो जाएगा।

2025 से पहले होगा बिहार विधानसभा का चुनाव, आरसीपी सिंह का दावा; वजह भी बताई
Malay Ojhaलाइव हिन्दुस्तान,पटनाThu, 07 Dec 2023 02:44 PM
ऐप पर पढ़ें

बीजेपी में शामिल हुए आरसीपी सिंह ने दावा करते हुए कहा है कि बिहार विधानसभा का चुनाव 2025 में नहीं होगा। 2024 के लोकसभा चुनाव में नीतीश कुमार बुरी तरह हारेंगे और फिर इनका जो गठबंधन है, वह खत्म हो जाएगा। आरसीपी सिंह ने कहा कि लोकसभा चुनाव में हारने के बाद ये लोग जल्द ही चुनाव करवाएंगे और फिर बिहार विधानसभा के चुनाव में एनडीए मजबूती के साथ सरकार बनाएगी। बीजेपी नेता ने यह भी कहा कि राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में मिली जीत के बाद अब 2024 का लोकसभा चुनाव क्लियर हो चुका है कि फिर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार बनेगी।

आरसीपी सिंह ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनकी पार्टी जेडीयू पर भी हमला बोला। बीजेपी नेता ने दावा करते हुए कहा कि नीतीश कुमार दिमागी रूप से बीमार चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिस तरह से नीतीश कुमार पहले सरकार चला रहे थे, अब वह उस तरह से सरकार नहीं चला रहे हैं। सदन में महिलाओं के प्रति अभद्र भाषा बोलना, सदन में दलित नेता और पूर्व मुख्यमंत्री को अपमानित करना यह उनके टूटने का लक्षण है। आरसीपी सिंह ने आगे कहा कि जेडीयू पूरी तरह टूट चुकी है। जब जहाज डूब जाता है तो वह कबाड़ी में चला जाता है और कबाड़ी की नीलामी होती है उसी तरह जेडीयू अब कबाड़ी बन चुकी है।

क्षेत्रीय पार्टियों को मौका नहीं दिए जाने के जेडीयू के बयान पर आरसीपी सिंह ने कहा कि यह सब बेकार की बातें हैं। उन्होंने कहा कि जहां क्षेत्रीय पार्टी मजबूती में है वहां तो ठीक है, लेकिन जब बात राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश की कर रहे हैं तो बताएं कि कहां क्षेत्रीय पार्टी मजबूती में है? छत्तीसगढ़ में कोई भी क्षेत्रीय पार्टी मजबूती में नहीं है। मध्य प्रदेश में भी क्षेत्रीय पार्टी नहीं है, जेडीयू वहां से चुनाव लड़ी तो जमानत भी नहीं बचा सकी।