ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारअयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा, जानकी जन्मभूमि में उत्सव; 1.25 लाख दीपों से जगमग हुआ मंदिर

अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा, जानकी जन्मभूमि में उत्सव; 1.25 लाख दीपों से जगमग हुआ मंदिर

जानकी मंदिर में सुबह से देर शाम तक श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही। रामजानकी मंदिर व मठ के साथ ही देवी-देवताओं के मंदिर को भी दीपकों की रोशनी व रंगीन बल्बों की लड़ियों से सजाया गया।

अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा, जानकी जन्मभूमि में उत्सव; 1.25 लाख दीपों से जगमग हुआ मंदिर
Malay Ojhaहिन्दुस्तान,सीतामढ़ी जनकपुरMon, 22 Jan 2024 10:36 PM
ऐप पर पढ़ें

अयोध्या में श्रीराम की प्राण-प्रतिष्ठा पर जानकी जन्मभूमि पर उत्सव हो रहा है। सीतामढ़ी से जनकपुर तक लोग निहाल हैं। अंतर्मन में उल्लास है। हृदय भाव विभोर है। घर-घर में रंगोली सजी है। दीपक जल रहे हैं। गांव-गांव में कीर्तन-भजन हो रहे हैं। अष्टयाम हो रहा है। मिठाइयां बंट रही हैं। भंडारे का आयोजन हो रहा है। मठ-मंदिरों में सुबह से ही विशेष पूजा का आयोजन हो रहा है। बच्चे, बुजुर्ग और महिलाएं सभी की जुबां से जय सियाराम के जयकारे लग रहे हैं। अयोध्या के उत्सवी माहौल की गूंज सीतामढ़ी व जनकपुरधाम सहित पूरे मिथिला में लोगों की जुबां पर सुनाई पड़ रही है। जनकपुर का जानकी मंदिर सवा लाख दीये की रोशनी से दमक रहा है। पूरा जनकपुर राममय है। मंठ-मंदिरों से लेकर घर-आंगन तक में दीये सज गए हैं। 

पुनौराधाम व रजतद्वार जानकी मंदिर में सुबह से देर शाम तक श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही। रामजानकी मंदिर व मठ के साथ ही देवी-देवताओं के मंदिर को भी दीपकों की रोशनी व रंगीन बल्बों की लड़ियों से सजाया गया। शहर के साथ ग्रामीण क्षेत्र की सड़कें भी रामध्वज व महावीरी झंडा से पट रही। अपने पाहुन की खुशी में सब सराबोर हो रहे थे। 

जनकपुरधाम स्थित जानकी मंदिर में फूलों की रंगोली बनायी गयी। सवा लाख दीप प्रज्वलित होने के बाद जानकी मंदिर का नजारा देखने लायक था। नेपाल जनता पार्टी के मधेश प्रदेश के अध्यक्ष शत्रुघ्न साह के नेतृत्व में 55 हजार दीप प्रज्वलित किये गये। राम मंदिर, राजदेवी मंदिर, सुंदर सदन, झूलन कुंज, गायत्री पीठ, प्रजापिता ब्रह्माकुमारी सहित सभी मठ-मंदिरों में भी बड़ी संख्या में राम दीप प्रज्वलित किए गए। अयोध्या के प्राण-प्रतिष्ठा समारोह को जानकी मंदिर सहित अन्य जगहों पर लाइव प्रसारण किया गया। श्रद्धालु जय श्रीराम का जयघोष कर रहे थे। बाद में शोभायात्रा भी निकाली गयी। इसमें गांव-गांव से झांकी गाजे-बाजे के साथ आयी थी। सभी मठ-मंदिरों में अखंड रामधुन, सुंदरकाण्ड का पाठ तथा भंडारे आयोजित किए गए हैं। 

प्राण-प्रतिष्ठा के साथ ही हुई पुनौराधाम में आरती
अयोध्या में श्रीराम की प्रतिमा की प्राण-प्रतिष्ठा के बाद पुनौराधाम स्थित सीता कुंड में महाआरती की गयी। आरती की भव्यता इतनी थी कि पैर रखने के लिए घाट पर जगह नहीं थी। मौके पर मंदिर के महंत कौशल किशोर दास, महंत के शिष्य रामकुमार दास, भाजपा के पूर्व राज्य सभा सांसद सह राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, राज्यसभा सांसद विवेक ठाकुर, नेता प्रतिपक्ष विधान परिषद हरि सहनी, विधायक गायत्री देवी सहित कई गणमान्य लोग व हजारों की संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे। वहीं संध्या में 51 हजार दीपक जलाकर दीपोत्सव मनाया गया। 

खुशी में उड़े गुब्बारे, सियाराम से जुड़े प्रसंगों पर प्रस्तुति
रजतद्वार जानकी मंदिर में भी भव्य आयोजन किया गया। प्राण-प्रतिष्ठा समारोह का लाइव प्रसारण दिखाया गया। सियाराम से जुड़े प्रसंगों पर कलाकारों ने शानदान प्रस्तुति देकर सबका मन मोह लिया। महिलाओं ने नचारी व खुशी के गीत गाकर माहौल को पावन कर दिया। कई जगहों पर खुशी में गुब्बारे उड़ाए गए। जगह-जगह लाइव देखने की व्यवस्था की गयी। भंडारे का भी आयोजन किया गया। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें