DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

CM नीतीश का निर्देश, हर पंचायत में जल्द हो सूखे का आकलन

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने निर्देश दिया है कि सभी जिलाधिकारी अपने सभी प्रखंडों में पंचायतवार सूखे की स्थिति का जल्द से जल्द आकलन करा लें। यह आकलन एक तय समय सीमा में कराएं ताकि उसके आधार पर सूखा प्रभावित लोगों की सहायता को लेकर निर्णय लिया जा सके। 

मुख्यमंत्री ने रविवार को राज्य में बाढ़ एवं सुखाड़ की पांच घंटे से अधिक समीक्षा की। मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित संवाद में उनकी अध्यक्षता में हुई इस बैठक के दौरान सभी जिलाधिकारियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बाढ़ एवं सुखाड़ की अद्यतन जानकारी ली गई। जिलाधिकारियों ने अब तक की गई कार्रवाई से भी अवगत कराया। इस दौरान जिलाधिकारियों  के साथ ही सभी प्रमंडलीय आयुक्त एवं पुलिस अधीक्षक भी जुड़े रहे। 

मौसम विज्ञान केंद्र के प्रतिनिधि ने बैठक में बताया कि 18 अगस्त तक राज्य में 604.9 मिमी ही वर्षा हुई है और यह सामान्य वर्षापात 681.8 से 76.9 मिमी कम है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दक्षिण बिहार में सूखे की आशंका बन रही है। सरकार अब एक लीटर डीजल पर 60 रुपये का अनुदान दे रही है। सभी किसानों को डीजल अनुदान का लाभ मिल सके, इसके लिए जिला कृषि पदाधिकारी को सख्त निर्देश दें। वैकल्पिक फसल लगाने की भी व्यवस्था की जाए वैकल्पिक फसल के लिये जिन फसलों का चयन हो, उसकी मार्केटिंग का भी विश्लेषण ठीक से करें। 

बैठक में ये रहे मौजूद 
उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी सहित अन्य मंत्री, मुख्य सचिव दीपक कुमार, मुख्यमंत्री के परामर्शी अंजनी कुमार सिंह, आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के उपाध्यक्ष ब्यासजी,  डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय, संबंधित विभागों के अपर मुख्य सचिव आदि बैठक में उपस्थित थे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Assessment of drought soon in Bihars every panchayat CM Nitish