ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारAraria News: लक्ष्मी नारायण मंदिर परिसर में धार्मिक प्रतीक को किया खंडित, FIR दर्ज; SDPO बोले- शरारती तत्वों को बख्शा नहीं जाएगा

Araria News: लक्ष्मी नारायण मंदिर परिसर में धार्मिक प्रतीक को किया खंडित, FIR दर्ज; SDPO बोले- शरारती तत्वों को बख्शा नहीं जाएगा

बिहार के अररिया जिले में असामाजिक तत्वों ने लक्ष्मी नारायण मंदिर परिसर में धार्मिक प्रतीक को क्षतिग्रस्त कर दिया। सूचना मिलने की मौके पर प्रशासन टीम पहुंची और जांच पड़ताल में जुट गई।

Araria News: लक्ष्मी नारायण मंदिर परिसर में धार्मिक प्रतीक को किया खंडित, FIR दर्ज; SDPO बोले- शरारती तत्वों को बख्शा नहीं जाएगा
Malay Ojhaअररिया हिन्दुस्तानThu, 23 Jun 2022 02:36 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

अररिया जिले के रामपुर कोदरकट्टी पंचायत स्थित लक्ष्मी नारायण मंदिर परिसर में मंगलवार की रात असामाजिक तत्वों के द्वारा धार्मिक प्रतीक को खंडित किया गया। बुधवार की सुबह गांव के लोगों को पता चला तो मौके पर भीड़ इकट्ठा हो गई।

एसडीओ शैलेश चंद्र दिवाकर, एसडीपीओ पुष्कर कुमार, नगर थानेदार शिव शरण साह ने मौके पर पहुंचकर मामले की पड़ताल की। पुलिस ने दफादार के आवेदन पर अज्ञात लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

मुखिया प्रतिनिधि राजेश कुमार सिंह ने बताया कि बुधवार की सुबह जब लोग घरों से निकले तो मंदिर परिसर को देखकर सन्न रह गए। शरारती तत्वों ने धार्मिक प्रतीक को क्षति पहुंचाई थी। सूचना पुलिस को दी गयी। अधिकारियो ने शांति व्यवस्था बहाल करने के उद्देश्य से ग्रामीणों व पंचायत प्रतिनिधियों के साथ बैठक की और लोगों को भरोसा दिलाया कि जो भी शरारती तत्व इस तरह की हरकत में शामिल हैं, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

शरारती तत्वों को बख्शा नहीं जाएगा

एसडीपीओ पुष्कर कुमार ने कहा कि शरारती तत्वों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। घटना में जो भी शामिल हैं, पुलिस उसे खोज निकालेगी। गांव में शांति बहाल रखने के लिए मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस पदाधिकारी व बल की तैनाती की है।

प्रशासन को दिया अल्टीमेटम

सांसद प्रदीप कुमार सिंह ने प्रशासन को अल्टीमेटम देते हुए कहा कि 24 घंटे के अंदर ऐसे शरारती तत्वों को खोज निकालें और उसे सलाखों के पीछे भेजें। सांसद ने कहा लोग शांतिप्रिय हैं। आपस में मिल जुल कर रहते हैं। प्रशासन इस तरह के हरकत करने वाले असामाजिक तत्वों को खोज निकाले और उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दे।

 

epaper