ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारमौत के बदले मौत चाहिए, सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या पर बौखलाए आनंद मोहन

मौत के बदले मौत चाहिए, सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या पर बौखलाए आनंद मोहन

राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या को लेकर बिहार के पूर्व सांसद आनंद मोहन की ओर से प्रतिक्रिया सामने आई है। उन्होंने कहा कि मौत के बदले मौत होनी चाहिए सिर्फ मौत।

मौत के बदले मौत चाहिए, सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या पर बौखलाए आनंद मोहन
Malay Ojhaलाइव हिन्दुस्तान,सहरसाThu, 07 Dec 2023 10:58 PM
ऐप पर पढ़ें

राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या को लेकर बिहार के पूर्व सांसद आनंद मोहन की ओर से प्रतिक्रिया सामने आई है। पूर्व सांसद ने कहा कि मौत के बदले मौत होनी चाहिए सिर्फ मौत। सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की जिस तरह से कायराना हत्या की गई है, उसकी निंदा करता हूं। गुरुवार को अपनी भतीजी की शादी में शामिल होने सहरसा जिले के पंचगछिया गांव पहुंचे आनंद मोहन ने पत्रकारों के साथ संक्षिप्त बातचीत के दौरान कहा कि सुखदेव सिंह गोगामेड़ी एक शेर दिल इंसान थे। वो मर्द थे और मर्द की मौत पर मातम नहीं मनाए जाते। ये जो हरकत है वो कायरतापूर्ण हरकत है। धोखे से एक शेर को शहीद कर दिया गया।

पूर्व सांसद आनंद मोहन ने कहा कि सुखदेव सिंह गोगामेड़ी कोई भूमाफिया नहीं थे, कोई बिल्डर नहीं थे और ना ही उनकी कोई आपराधिक घटना में संलिप्तता नहीं थी। वो शुद्ध रूप से मूलतः राजपूत समाज के बड़े और कद्दावर नेता थे। धोखे से कायरों ने उनकी हत्या कर दी। उन्होंने कहा कि ये बात भी सामने आ रही है गुप्तचर एजेंसियां चाहे राज्य सरकार की हों, या केंद्र सरकार की हो, उनको ये जानकारियां थीं। आनंद मोहन ने कहा कि उनकी हत्या के लिए एके 47 खरीदे गए थे। सुखदेव सिंह की हत्या के लिए कुछ बड़े गैंग को सुपारी दी गई थी। आनंद मोहन ने कहा कि इतनी जानकारी होने के बाद भी एक व्यक्ति की हत्या कर दी जाती है, इसमें बहुत दूर की बातें हैं और कहीं न कहीं राजनीतिक कनेक्शन है।

मरे नहीं हैं पापा... समर्थकों से भावुक अपील, सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या पर क्या बोली बेटी?

बता दें कि राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की मंगलवार को उनके घर में तीन हथियारबंद लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी। गोलीबारी में एक हमलावर नवीन शेखावत की भी मौत हो गई। वहीं सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या को लेकर भाजपा और कांग्रेस में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। दोनों पार्टियों ने कानून-व्यवस्था की खराब स्थिति के लिए एक-दूसरे पर निशाना साध रही हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें