Sunday, January 23, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारसहरसा में युवक की हत्या के बाद बवाल, आरोपियों के घरों व गाड़ियों को फूंका

सहरसा में युवक की हत्या के बाद बवाल, आरोपियों के घरों व गाड़ियों को फूंका

सहरसा हिन्दुस्तान टीमMalay Ojha
Sun, 05 Dec 2021 11:07 PM
सहरसा में युवक की हत्या के बाद बवाल, आरोपियों के घरों व गाड़ियों को फूंका

इस खबर को सुनें

सहरसा के कहरा कुटी में रविवार को युवक की गोली मार कर हत्या किये जाने के बाद स्थानीय लोगों ने जमकर बवाल काटा। आक्रोशित लोगों ने वाहनों व घरों को फूंक डाले। मृतक छोटू कुमार (20) कहरा कुटी का ही रहने वाला है। हत्या का कारण जमीन विवाद बताया जा रहा है। करीब चार घंटे तक पूरा घटनास्थल रणक्षेत्र बना रहा। आग पर काबू पाने के लिए अग्निशमन विभाग की गाड़ी को बुलाना पड़ा। 

रविवार को कहरा कुटी में एक जमीन पर चहारदीवारी निर्माण का काम चल रहा था। इस जमीन को लेकर भवेश पासवान और छोटू पासवान के बीच विवाद चल रहा है। इसके  विरोध में छोटू पासवान व छोटू कुमार समेत अन्य लोग पहुंचे। जिसके बाद दोनों पक्षों में कहासुनी के बाद विवाद बढ़ता चला गया। इसी बीच एक पक्ष के लोगों ने छोटू कुमार को गोली मार दी। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी।

हत्या के बाद आक्रोशित लोगों ने आरोपियों के घर में तोड़फोड़ कर आग लगा दी। आसपास के रिश्तेदारों के घर में भी तोड़फोड़ कर क्षतिग्रस्त कर दिया। एक सूमो और दो बाइक में आग लगा दी। सूचना मिलते ही घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने मोर्चा संभाला। करीब चार घंटे के बाद सबकुछ शांत हुआ। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।  इस दौरान कई घंटे तक पूरा इलाका दहशत में रहा। सड़क जाम करने से यातायात भी बाधित रहा। इलाके में तनाव के मद्देनजर देर शाम तक पुलिस डटी थी। सदर एसडीपीओ संतोष कुमार ने बताया कि जमीन विवाद में हत्या हुई है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। कार्रवाई की जा रही है।

सदर पुलिस पर दो लाख लेने का आरोप

आक्रोशित लोगों ने सदर थाना पुलिस पर दो लाख रुपये लेने का आरोप लगाते हुए पुलिस के खिलाफ भी जमकर आक्रोश जताया। मौके पर सदर एसडीपीओ संतोष कुमार, मुख्यालय डीएसपी एजाज अहमद मानी, प्रशिक्षु डीएसपी निशिकांत भारती, अंचल निरीक्षक राकेश कुमार सिंह, सदर थानाध्यक्ष जयशंकर प्रसाद, पुनि राजमणि सहित विभिन्न थानों की पुलिस के अलावा भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंचे। पुलिस ने आक्रोशित लोगों को खदेड़कर भगाया। मामले की जानकारी मिलने पर सदर एसडीओ प्रदीप झा, कहरा सीओ लक्षमण प्रसाद सहित अन्य मौके पर पहुंचे। 

चाहरदीवारी का विरोध करना पड़ा महंगा

भवेश पासवान द्वारा कराये जा रहे चाहरदीवारी का निर्माण छोटू कुमार को महंगा पड़ा। अपने करीबी छोटू पासवान के पक्ष में पहुंचे छोटू कुमार को भवेश पासवान के पक्ष के लोगों ने गोली मार दी। जिसके बाद भगदड़ मच गई। वहां से लोग खिसकने लगे। हालांकि पासवान पक्ष की महिलाएं घरों में बंद रही। जिसे पुलिस ने आगजनी के दौरान सुरक्षित बाहर निकाला। 

सही समय पर एक्शन होता तो कम होती क्षति

घटना के बाद अगर पुलिस सही एक्शन लेती तो शायद इतनी बड़ी क्षति नहीं होती। पुलिस की सुस्ती के कारण लोग घरों में तोड़ फोड़ व आगजनी करते रहे। हालांकि बाद में क्यूआरटी व पैंथर की टीम ने मोर्चा संभालते आक्रोशित लोगों को खदेड़ा। जिसका इलाके में शांति बहाल हो सकी। 

लगा रहा जाम, रूट बदलकर चले वाहन

घटना के बाद सहरसा-बनगांव रोड में जाम लग गया। बड़ी संख्या में गाड़ियां फंसी रहीं। लोग वैकल्पिक मार्ग तलाशते नजर आए। कई वाहन चालक तो लौट कर रहुआमणि नहर व दूसरे मार्ग से शहर मुख्यालय से घरों की ओर गए। घटना के दौरान आसपास के लोग भी सहमे रहे।

 

epaper

संबंधित खबरें