ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारइंजीनियरिंग छात्रों के खाने की थाली में निकला सांप का टुकड़ा, 10 से ज्यादा की तबीयत बिगड़ी; DM एक्शन में

इंजीनियरिंग छात्रों के खाने की थाली में निकला सांप का टुकड़ा, 10 से ज्यादा की तबीयत बिगड़ी; DM एक्शन में

छात्रों ने बताया कि उनके परोसे गए भोजन में मृत सांप देखा गया जिसके बाद सभी छात्रों को उल्टी व पेट दर्द की शिकायत हो गई। छात्रों ने बताया कि इसकी शिकायत उन सबने कॉलेज प्रशासन से की लेकिन कुछ नहीं हुआ।

इंजीनियरिंग छात्रों के खाने की थाली में निकला सांप का टुकड़ा, 10 से ज्यादा की तबीयत बिगड़ी; DM एक्शन में
a snake found in food plate of engineering students in banka bihar more than 10 fell ill dm is serio
Sudhir Kumarहिन्दुस्तान,बांकाSat, 15 Jun 2024 11:30 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के बांका में जिला मुख्यालय से सात किलोमीटर दूर लकड़ीकोला स्थित इंजीनियरिंग कॉलेज में गुरुवार की रात भोजन खाने से करीब 10 छात्र बीमार हो गए। छात्रों का आरोप है कि उनके खाने में मरे हुए सांप का टुकड़ा पाया गया। सभी छात्र देर रात सदर अस्पताल पहुंचे, जहां ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर ने इलाज किया। हालांकि सभी छात्र खतरे से बाहर बताए गए हैं। बीमार होने वालों में गणेश प्रसाद, महेश कुमार, सुन्नी कुमार, सरोज कुमार, अभिनव कुमार, रूपेश कुमार, जैमी, अमित राज, अमन कुमार, अश्वनी कुमार आदि शामिल हैं।

ड्यूटी पर तैनात डा. रविकांत ने बताया कि 10 से अधिक छात्र गुरुवार देर रात अस्पताल आए थे, जिनको फूड प्वाइजनिंग की परेशानी थी। सभी का इलाज किया गया। सभी स्वस्थ हैं। इधर, छात्रों ने बताया कि उनके परोसे गए भोजन में मृत सांप देखा गया जिसके बाद सभी छात्रों को उल्टी व पेट दर्द की शिकायत हो गई। छात्रों ने बताया कि इसकी शिकायत उन सबने कॉलेज प्रशासन से की। बावजूद कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया। वहीं छात्रों ने आरोप लगाया कि जब एम्बुलेंस को कॉल कर बुलाया तो कॉलेज के द्वारा एम्बुलेंस को मना कर दिया गया। इस वजह से सभी बीमार छात्रों को निजी वाहन से सदर अस्पताल आना पड़ा। छात्रों ने इसकी शिकायत टाउन थाना पुलिस को भी देर रात ही की थी, लेकिन कोई मदद नहीं मिल सकी।

क्या कहते हैं जिलाधिकारी? 

इंजीनियरिंग कॉलेज में पूर्व में भी खाना में अनियमितता की शिकायत मिली थी जिसकी प्रशासनिक टीम से जांच कराई गई थी। इसके लिए कॉलेज प्रबंधन को भी हिदायत दी गई थी। गुरुवार की रात अगर दोबारा से ऐसी घटना हुई है तो इसकी सख्ती से जांच करवाई जाएगी और दोषी पाये जाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। -अंशुल कुमार, जिलाधिकारी, बांका

डीएम के निर्देश पर पहुंचे अधिकारी

इंजिनियरिंग कॉलेज की घटना की सूचना पर डीएम अंशुल कुमार के आदेश पर एसडीओ अविनाश कुमार एवं मुख्यालय डीएसपी विनोद कुमार शुक्रवार की शाम इंजिनियरिंग कॉलेज पहुंचे। पदाधिकारियों ने छात्रों व वहां के प्राचार्य से घटना को लेकर जानकारी ली। साथ ही छात्रों को शांति बनाए रखने की अपील की है।

कॉलेज के राधेश्याम पर लगाया आरोप

छात्रों ने इस घटना को लेकर शुक्रवार को कॉलेज परिसर में धरना और प्रदर्शन किया। इस दौरान उनसबों ने कॉलेज के राधेश्याम नामक व्यक्ति पर आरोप लगाया कि जब वे सभी भोजन का विरोध किया और बीमार छात्रों को सदर अस्पताल पहुंचाने की बात की तो वे छात्रों की कॉलर तक पकड़ लिया। वहीं धमकी भी दी। छात्रों ने कहा कि उनका एग्जाम है। ऐसे में अगर उन्हें ऐसे भोजन या फिर ऐसे हालात से गुजरना पड़ेगा तो उनका भविष्य खतरे में हो सकती है। छात्रों ने जिला प्रशासन से दोषी के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की। हालांकि कॉलेज प्रबंधन कुछ भी बताने से इंकार कर रहा है।

मेस के फूड सैंपल को जांच में भेजा गया भागलपुर

बांका के सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज में विषाक्त भोजन परोसे जाने का मामला सामने आने के बाद शुक्रवार देर शाम एसडीएम अविनाश कुमार और हेडक्वार्टर डीएसपी विनोद कुमार जांच में पहुंचे और प्रदर्शन कर रहे छात्र छात्राओं को समझा बुझाकर शांत कराया तथा दोनों मेस का भी निरीक्षण किया।

एक्सपायर डेट वाले मशाले और फूड प्रोडक्ट्स पाए गए

इस दौरान कई एक्सपायर डेट वाले मशाले और फूड प्रोडक्ट्स पाए गए। जिनका सैंपल लेकर फूड इंस्पेक्टर को जांच में भागलपुर भेजा गया है। एसडीएम में बताया कि अगर भोजन सामग्री में गड़बड़ी की बात सामने आती है तो मेस संचालन करने वाले संवेदक के ऊपर भी कारवाई की जायेगी। वहीं मेस का संचालन गर्ल्स और ब्वॉयज हॉस्टल में सामान्य रूप से चालू करा दिया गया है।समिति के बैठक के बाद नए वेंडर का भी चयन कर लिया जायेगा।जांच रिपोर्ट पूरी होने के बाद बांका डीएम को सौंप दिया जाएगा।फिलहाल डीएम के निर्देश पर कॉलेज में नियमित रूप से छात्रों के स्वास्थ्य जांच के लिए कैंप लगवाया जायेगा।