ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारटल गया बड़ा रेल हादसा; मुजफ्फरपुर जंक्शन पर दो भागों में बंट गई मालगाड़ी, यहां पढ़ें पूरी खबर

टल गया बड़ा रेल हादसा; मुजफ्फरपुर जंक्शन पर दो भागों में बंट गई मालगाड़ी, यहां पढ़ें पूरी खबर

मुजफ्फरपुर जंक्शन पर सिग्नल क्लीयरेंस के लिए लाइन नंबर दो पर रुकी थी। सिग्नल मिलने पर पायलट ने गाड़ी को जैसे ही आगे की ओर बढ़ाया कि यह हादसा पेश आया। कपलिंग ठीक करके गाड़ी को रवाना किया गया।

टल गया बड़ा रेल हादसा;  मुजफ्फरपुर जंक्शन पर दो भागों में बंट गई मालगाड़ी, यहां पढ़ें पूरी खबर
Sudhir Kumarहिन्दुस्तान,मुजफ्फरपुरSun, 16 Jun 2024 07:30 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के मुजफ्फरपुर में शनिवार को बड़ा रेल हादसा टल गया। दरअसल समस्तीपुर के नरहन जा रही मालगाड़ी का कपलिंग शनिवार की शाम करीब साढ़े चार बजे मुजफ्फरपुर जंक्शन के लाइन नंबर दो पर खुल गया। इससे मालगाड़ी दो हिस्से में बंट गई। यह देखकर मुजफ्फरपुर जंक्शन पर अफरातफरी मच गयी। इसकी सूचना मिलते ही स्टेशन प्रबंधक अखिलेश कुमार सिंह, सीडीओ राजीव कुमार और कैरेज विभाग के कर्मी पहुंचे। कपलिंग खुले होने पर लोगों ने राहत की सांस ली। करीब 10 मिनट में कपलिंग को जोड़कर मालगाड़ी रवाना कर दिया गया। उससे पहले रेलवे के अधिकारियों और कर्मी काफी सीरियस और व्यस्त दिखे।

इससे पूर्व रेलकर्मियों को कपलिंग टूटने की सूचना मिली थी। हालांकि, कपलिंग टूटा नहीं था, उसका हुक निकल गया था। मालगाड़ी पर सीमेंट लदा था। गोरखपुर से आ रही मालगाड़ी समस्तीपुर के नरहन जा रही थी। मुजफ्फरपुर जंक्शन पर सिग्नल क्लीयरेंस के लिए लाइन नंबर दो पर रुकी थी। सिग्नल मिलने पर पायलट ने गाड़ी को जैसे ही आगे की ओर बढ़ाया कि यह हादसा पेश आया।

नेटवर्किंग ट्रेनिंग की आड़ में यौन शोषण, बालिकागृह कांड की तर्ज पर दर्जनों लड़कियां शिकार;  FIR दर्ज

गाड़ी आगे बढ़ाते हुई जोरदार आवाज 

घटना को लेकर बताया गया कि सिग्नल मिलने पर जैसे ही लोको पायलट ने मालगाड़ी को नारायणपुर अनंत की ओर बढ़ाया, जोरदार आवाज हुई। मालगाड़ी दो मीटर तक बढ़कर रुक गयी। क्योंकि ट्रेन के दो भागों में बंट जाने से ऑटोमेटिक वैक्यूम हो गया। लोको पायलट ने इसकी जानकारी गुड्स मैनेजर को दी, फिर कंट्रोल को सूचना दी गई। इधर, जोरदार आवाज सुन स्टेशन पर अफरातफरी मच गई। आवाज सुनकर प्रबंधक समेत अन्य अधिकारी भी सोच में पड़ गए और जल्दीबाजी में मौके पर पहुंचे। सीडीओ और कैरेज विभाग को जानकारी दी।

इधर इस मामले में ऑपरेटिंग विभाग के पदाधिकारी ने कपलिंग खुलने की जानकारी दी है। पदाधिकारियों ने कपलिंग टूटने की बात को गलत ठहराया। जानकारी हो कि अगर यह परिचालन के दौरान होता तो बड़ा हादसा हो सकता था। हादसा टल जाने पर सबने राहत की सांस ली।