ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारदस माह में 5वां दौरा, अमित शाह की मुजफ्फरपुर रैली का मकसद बेहद खास; जानें, कब-कब आए बिहार

दस माह में 5वां दौरा, अमित शाह की मुजफ्फरपुर रैली का मकसद बेहद खास; जानें, कब-कब आए बिहार

पार्टी के तमाम प्रकोष्ठों, मोर्चा के नेता, प्रदेश अध्यक्ष, संयोजक व प्रभारी भी रैली सफल बनाने में जुटे हुए हैं। भारतीय जनता पार्टी मुजफ्फरपुर जिले की वैशाली लोक सभा सीट से कभी चुनाव नहीं लड़ी।

दस माह में 5वां दौरा, अमित शाह की मुजफ्फरपुर रैली का मकसद बेहद खास; जानें, कब-कब आए बिहार
Sudhir Kumarहिंदुस्तान,पटनाFri, 03 Nov 2023 08:28 PM
ऐप पर पढ़ें

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पांच नवम्बर को बिहार दौरे पर आ रहे हैं। वे मुजफ्फरपुर के पताही हवाई अड्डा में एक जनसभा को संबोधित करेंगे। उनका यह कार्यक्रम लोकसभा प्रवास कार्यक्रम के तहत हो रहा है। शाह के आगमन को देखते हुए पार्टी तैयारी में जुटी हुई है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी, केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय सहित अन्य नेता मुजफ्फरपुर का दौरा कर रहे हैं। गृह मंत्री का 10 महीने में यह पांचवां बिहार दौरा है। 

पार्टी का मानना है कि इस रैली के जरिए गृह मंत्री बिहार को जदयू-राजद वाली सरकार से मुक्ति दिलाने के अभियान का आगाज करेंगे। इसमें मुजफ्फरपुर व आसपास के लोकसभा के नेता व कार्यकर्ता जुटेंगे। मुजफ्फरपुर के बहाने गृह मंत्री आधा दर्जन लोकसभा सीटों को साधने की कोशिश करेंगे।

इसलिए पार्टी के तमाम प्रकोष्ठों, मोर्चा के नेता, प्रदेश अध्यक्ष, संयोजक व प्रभारी भी रैली सफल बनाने में जुटे हुए हैं। पार्टी मुजफ्फरपुर जिले की वैशाली लोकसभा सीट से कभी चुनाव नहीं लड़ी बल्कि, गठबंधन साथी दलों के उम्मीदवार चुनाव लड़ते रहे। अमित शाह की रैली में इसे लेकर किसी बड़ी घोषणा के कयास लगाए जा रहे हैं। रैली स्थल पताही हवाई अड्डा वैशाली लोकसभा में पड़ता है।

कब कब आए बिहार

1. 25 फरवरी: पश्चिम चंपारण के लौरिया में जनसभा की थी।
2. 2 अप्रैल: नवादा में शाह ने एक जनसभा को संबोधित किया। 
3. 29 जून : मुंगेर लोकसभा के लखीसराय में जनसभा की थी। 
4. 16 सितंबर: झंझारपुर में एक जनसभा को संबोधित किया। 
5. 5 नवंबर: मुजफ्फरपुर में शाह जनसभा को संबोधित करेंगे। 


10 सीटों पर विशेष फोकस

वैसे तो पार्टी सभी 40 लोकसभा सीटों पर रणनीति बनाकर काम कर रही है। लेकिन पार्टी ने 10 ऐसी सीटों को चिह्नित किया है जहां उसने अब तक चुनाव नहीं लड़ा है। इन सीटों पर अब तक भाजपा के कोई न कोई सहयोगी दल ही चुनाव लड़ते रहे हैं। ऐसी सीटों में किशनगंज, नवादा, गया, झंझारपुर, कटिहार, मुंगेर, पूर्णिया, सुपौल, वैशाली व वाल्मीकिनगर शामिल है। इन सीटों पर गृह मंत्री के अलावा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की रैली हो रही है। 

भाजपा की सरकार बनाना है मकसद : सम्राट 

प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने दावा किया कि गृह मंत्री के इस दौरे से मुजफ्फरपुर की सभी 11 विधानसभा, मुजफ्फरपुर तथा वैशाली लोकसभा में कमल खिलेगा। 2024 मे सभी 40 लोकसभा सीट और 2025 मे दो-तिहाई बहुमत से बिहार में एनडीए सरकार बनाना ही भाजपा का लक्ष्य है। इसलिए शाह की रैली को ऐतिहासिक बनाने में कार्यकर्ता जुटे हुए हैं। रैली में लाखों लोग शामिल होंगे। बिहार की जनता राज्य में मौजूदा सरकार को वापस नहीं आने देगी।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें