DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिन्दुस्तान एक्सक्लूसिव: बिहार में 37.8 फीसदी छात्र व 61 फीसदी छात्राएं एनीमिया से ग्रसित

पढ़ाई के दौरान हमारे बच्चे स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। पौष्टिक भोजन उन्हें समय से नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में वे एनीमिक हो रहे हैं। यह सच्चाई बिहार शिक्षा परियोजना परिषद की रिपोर्ट में निकलकर सामने आई है। यूनिसेफ के सहयोग से तैयार की गई इस रिपोर्ट में सूबे के 61 फीसदी छात्राएं एनीमिया से ग्रसित पाई गई हैं। यह रिपोर्ट दो माह पहले मार्च में जारी हुई है। एनीमिया से ग्रसित छात्रों की संख्या 37.8 फीसदी है। नौवीं से 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों के बीच सर्वे के बाद यह रिपोर्ट तैयार की गई है। यूनिसेफ ने बिहार के साथ-साथ देश के दूसरे राज्यों में भी इसी तरह का सर्वे कराया है। रिपोर्ट में जिक्र है कि कई राज्यों के बच्चों का स्वास्थ्य बिहार से बेहतर है। यहां तक कि पड़ोसी उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड जैसे राज्यों में छात्र बिहार की तुलना में बेहतर हैं। झारखंड के छात्रों की स्थिति भी यहां से बेहतर है।

एनीमिया क्या है
एनीमिया का अर्थ है-शरीर में खून की कमी। हमारे शरीर में हिमोग्लोबिन एक ऐसा तत्व है जो शरीर में खून की मात्रा बताता है। पुरुषों में इसकी मात्रा 12 से 16 प्रतिशत तथा महिलाओं में 11 से 14 के बीच होना चाहिए। 

बीमार छात्राएं ड्रॉप करती हैं क्लास
कई बार तो एनीमिया के कारण इतनी कमजोरी होती है कि छात्राएं कई-कई दिनों तक स्कूल नहीं आ पाती हैं। बांकीपुर गर्ल्स हाई स्कूल, बोरिंग रोड बालिका उच्च विद्यालय, गर्दनीबाग बालिका उच्च विद्यालय, पटना हाई स्कूल, मिलर हाई स्कूल राजधानी के प्रसिद्ध स्कूल हैं, जहां पर आये दिन छात्र-छात्राओं के बेहोश होने की घटनाएं भी होती हैं। इन स्कूलों में असेंबली के समय 15 मिनट भी छात्राओं को खड़ा रहना मुश्किल होता है। 

राज्य में एनीमिया से छात्राओं के अलावा छात्र भी ग्रसित हैं। इसको लेकर कई योजनाएं बनायी जा रही हैं। इससे विद्यार्थियों में एनीमिया को खत्म किया जा सकता है। इसके लिए जागरूकता की सबसे ज्यादा जरूरत है। इसके बिना इसे दूर करना संभव नही है।
- किरण कुमारी, राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी 

एनीमिया से ग्रसित विद्यार्थियों की स्थिति 
राज्य    छात्र    छात्रा
बिहार    37.8    61.0 
झारखंड    35.3    65.0
उत्तराखंड    20.8    42.4
उत्तर प्रदेश    31.5    53.7
दिल्ली    20.3    35.4
मध्य प्रदेश    36.5    53.2
राजस्थान    22.1    49.1 
ओडिशा    30.3    51.0

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:37 percent boy students and 61 percent girl students are suffering from anemia in Bihar