DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार: सोना लुटेरा गैंग के सरगना मनीष सिंह समेत तीन कुख्यात ढेर

                                                          -47

महनार थाना क्षेत्र के बहलोलपुर दियारा से सटे पलवैया दियारा में शनिवार की सुबह एसटीएफ ने मुठभेड़ के दौरान कुख्यात सोना लुटेरा गैंग के सरगना मनीष सिंह समेत तीन अपराधियों को ढेर कर दिया। मुठभेड़ के दौरान मौके से भाग निकले तीन अन्य अपराधियों को पुलिस ने सर्च ऑपरेशन चलाकर गिरफ्तार कर लिया। घटना के बाद सर्च ऑपरेशन में पुलिस ने दो एके-47 राफइल और दो पिस्टल के साथ करीब 50 हजार रुपए नकद और भारी मात्रा में कारतूस बरामद किया है। अपराधियों को पकड़ने के लिए पुलिस का सर्च ऑपरेशन दोपहर करीब 12 बजे तक चलता रहा। 

गुप्त सूचना पर बहलोलपुर दियारा से सटे पलवैया दियारा में अपराधियों की घेराबंदी करने वाली पुलिस और एसटीएफ से शनिवार सुबह मुठभेड़ शुरू हो गई। इसमें तीन अपराधियों को एसटीएफ ने मार गिराया और तीन अन्य भाग निकले, जिन्हें सर्च ऑपरेशन चलाकर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। कई और अपराधियों को भी गोली लगने की बात कही गई है, लेकिन वे वहां से भागने में सफल हुए। पुलिस को सूचना मिली थी कि दियारा में अपराधी छिपे हैं। सूचना की पुष्टि हुई तो  पुलिस ने शनिवार की सुबह अपराधियों के ठिकाने की घेराबंदी की। 

कई माह से गैंग यहां पर था सक्रिय
सूत्र बताते हैं कि अपराधियों का यह गैंग कई माह से दियारा में सक्रिय था। अपराधियों के ऐशो-आराम की सारी सुविधाएं दियारा क्षेत्र बहलोलपुर एवं पलवैया में उपलब्ध कराई जाती थी। अपराधियों का जहां ठिकाना था, वहां जनरेटर सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध थीं। मुठभेड़ में मारे गए अपराधियों में मनीष सिंह और उसके गिरोह के लोग शामिल हैं। मनीष सिंह का गिरोह जयपुर, कोटा, कोलकाता समेत कई शहरों में सोना की बड़ी लूट की वारदात को अंजाम दे चुका था। कई राज्यों की पुलिस और एसटीएफ को मनीष के गिरोह की तालाश थी। 

पूरे इलाके को पुलिस ने कराया खाली 
यहां बता दें कि यह क्षेत्र गंगा के दक्षिण दियारा इलाके में पड़ता है। अपराधी पलवैया के बलुआ टोले में छिपे थे। मुठभेड़ के बाद जब तीन अपराधी मार गिराए गए और तीन भागने में सफल हुए तो सर्च ऑपरेशन चलाने के लिए पूरे इलाके को पुलिस ने खाली कराया। एसटीएफ ने मुठभेड़ में सोना लुटेरे मनीष को उसके दो साथियों के साथ ढेर किया है। मनीष के बारे में बताया जा रहा है कि वह देश के अलग-अलग हिस्सों में सोना लूट में शामिल था। घटना की सूचना के बाद एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो, एएसपी, डीएसपी महनार, एसडीओ महनार, थानाध्यक्ष महनार, सीओ महनार एवं फोरेंसिक जांच की टीम पहुंची और ताबड़तोड़ सर्च ऑपरेशन चलाया।

हसनपुर दक्षिणी पंचायत के बहलोलपुर दियारा से सटे पलवैया दियारा में कुछ अपराधियों के छिपे होने की सूचना पुलिस को मिली थी। एसटीएफ ने रात में ही यहां डेरा डाल दिया था। कुछ जवान नाव से यहां पर पहुंचे। सुबह जहां इनके होने की सूचना मिली थी वहां पर पटना की एसटीएफ टीम ने कार्रवाई शुरू की। पुलिस को देख अपराधियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने मनीष सिंह गैंग के तीन अपराधियों को मार गिराया। तीन अन्य को गिरफ्तार कर लिया गया है। ये अपराधी किसके यहां रुकते थे, कौन-कौन इनकी मदद करता था। इनस भी चीजों की जांच- पड़ताल पुलिस कर रही है। 
-मानवजीत सिंह ढिल्लो, एसपी, वैशाली 

मारे गए तीनों अपराधी
- मनीष सिंह (थाना राघोपुर, वैशाली)
- अब्दुल इमाम (थाना मनियारी, मुजफ्फरपुर) 
- अब्दुल अमन (समस्तीपुर, मथुरापुर) 

तीन गिरफ्तार 
- विनोद कुमार सिंह (थाना जुड़ावनपुर)
- मुकेश कुमार सिंह (थाना सालीमपुर, पटना) 
- बच्चू शाह उर्फ डेंजर  (थाना महनार, वैशाली)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:3 Criminals including Gold Robber gang Chief Killed in encounters in Bihar