ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारभीषण गर्मी से बिहार के स्कूलों मे 20 छात्राएं बीमार; गोपालगंज में तीन बेहोश, हीट स्ट्रोक का बनी शिकार

भीषण गर्मी से बिहार के स्कूलों मे 20 छात्राएं बीमार; गोपालगंज में तीन बेहोश, हीट स्ट्रोक का बनी शिकार

राज्य में भीषण गर्मी से सारण के स्कूल की 20 छात्राओं की तबीयत बिगड़ गई। जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं गोपालगंज में 3 छात्राएं बेहोश हो गई। सभी हीट स्ट्रोक का शिकार हैं।

भीषण गर्मी से बिहार के स्कूलों मे 20 छात्राएं बीमार; गोपालगंज में तीन बेहोश, हीट स्ट्रोक का बनी शिकार
Sandeepएक संवाददाता,मशरक, सारणTue, 28 May 2024 06:11 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार में गर्मी का सितम ढा रही है। सोमवार को सारण में भीषण गर्मी से 20 छात्राएं बीमार हो गई। वहीं गोपालगंज में 3 छात्राएं बेहोश हो गई। मशरक मुख्यालय से 5 किमी दूरी पर कवलपुरा गांव के आवासीय कस्तूरबा बालिका विद्यालय की 20 छात्राएं तेज बुखार व दर्द से छटपटाने लगीं । वार्डन अलंकार ज्योति व अकाउंटेंट पूजा सिंह ने मशरक अस्पताल में इसकी सूचना दी जिसके बाद सभी को एंबुलेंस से मशरक सामुदायिक स्वास्थ केंद्र लाया गया । चिकित्सा पदाधिकारी डॉ चंद्रशेखर सिंह , डॉ एस के विद्यार्थी सहित एक दर्जन मेडिकल टीम चिकित्सा में जुटी।

घटना की सूचना मिलते ही बीडीओ मशरक पंकज कुमार , प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी डॉ वीणा कुमारी अस्पताल पहुंची। इलाज कर रहे डॉक्टर चंद्रशेखर सिंह ने बताया कि सभी छात्रा हीट स्ट्रोक का शिकार हैं जिसके कारण हाई फीवर सहित बेचैनी है । सभी को गहन चिकित्सा में रखा गया है। हालांकि अस्पताल में एसी व कूलर नहीं होने से डॉक्टर भी परेशान दिखे।कस्तूरबा विद्यालय में नामांकित एक सौ छात्रा में सोमवार को 40 छात्रा ही मौजूद थीं जिसमें 20 की हालत खराब है। 

बीमार छात्राओं में मशरक के अलावा सीमावर्ती प्रखंड की है जिसमें चिंता कुमारी, ब्यूटी कुमारी ,रौशनी कुमारी ,खुशी कुमारी ,अन्नी कुमारी ,खुशबू खातून ,नंदनी कुमारी, अनिशा कुमारी,मनीषा कुमारी, संध्या कुमारी, अमृता कुमारी, ज्योति कुमारी, सोनाली कुमारी, खुशबू कुमारी, तबस्सुम खातून सहित अन्य बीमार हैं। सभी के परिजनों को सूचित किया गया है ।

कस्तूरबा आवासीय विद्यालय में एक कमरे में 15 से 20 छात्राएं रहती हैं। कमरे में बेहतर हवा नहीं आने से भी परेशानी बढ़ी। रविवार की रात रोटी , तड़का इन्हें खाना में मिला । सोमवार को चना गुड़ तो कइ ने दही चूड़ा खाकर बुनियादी विद्यालय कवलपुरा में पढ़ाई करने के बाद 12 बजे दोपहर में हॉस्टल आईं। चावल, दाल व सब्जी खाने के थोड़ी देर बाद से ही एक एक कर सभी बुखार से तड़पने लगीं। बच्चियों के अनुसार दो - तीन छात्रा सुबह से ही बीमार थीं।

बुनियादी विद्यालय के प्रधानाध्यापक व कस्तूरबा के प्रभारी शिव शम्भू सिंह ने बताया कि एक बजे मैं छपरा लौटा उस वक्त सबकुछ सामान्य था। हालांकि कस्तूरबा में पदस्थापित शिक्षिका आज ही अवकाश पर गई है। उधर, सूचना मिलने पर बीडीओ, बीईओ समेत अन्य अफसर भी अस्पताल पहुंचे। बीईओ ने कहा कि कई विद्यालयों में हीट स्ट्रोक के बच्चे शिकार हुए है।