DA Image
4 जून, 2020|1:59|IST

अगली स्टोरी

पटना में 18 कोरोना संक्रमितों की वजह से 18 इलाके सील

18 अप्रैल को शहर का खाजपुरा मोहल्ला पूरी तरह सील कर दिया गया। एक-एक कर 22 लोगों में संक्रमण पाया गया जिसके बाद बेली रोड को भी सील करना पड़ा। तीन हजार से अधिक घरों वाला यह मोहल्ला कंटेनमेंट और बफर जोन में घिर गया है। आना-जाना तो दूर, बाहरी लोगों का भी प्रवेश पूरी तरह से बंद है। मजिस्ट्रेट और पुलिस की निगरानी में मोहल्ले का हर परिवार है।

एक संक्रमित लड़की की वजह से ही मोहल्ले के हालात ऐसे बने हैं। अब तक 21 संक्रमितों की छुट्टी हो चुकी है और वह अपने घर में होम क्वॉरेंटाइन हैं, लेकिन 24 अप्रैल को संक्रमित पाई गई बच्ची आज तक स्वस्थ नहीं हो पाई है। ऐसे में खाजपुरा को कंटेनमेंट जोन से बाहर आने में लंबा समय लग सकता है। खाजपुरा से सटा बीएमपी भी बड़ा कंटेनमेंट जोन है। इन दो के अलावा आलमगंज,  मछली गली, बीपीएससी बेली रोड के पास स्लम एरिया, जक्कनपुर गिरजा पथ, राजीव नगर के रोड नंबर 4 में फाइनेंस डिपार्टमेंट कॉलोनी, शास्त्री नगर, दुर्गा आश्रम गली, संपतचक में रोड नंबर 3, चंद्र विहार कॉलोनी रोड संख्या 25,राजीव नगर, टहलटोला धनौत, शंभुकुड़ा पंचायत नवटी, बिरला कॉलोनी, फुलवारी गुमटी, महाराजगंज बगलापुर, पंचायत चक, पश्चिमी जजेज कॉलोनी, आरपीएस मोड़, रूपसपुर को कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। 

सील हुए 6 इलाकों की कहानी
पटना के 6 ऐसे इलाके हैं, जो सील किए गए हैं। यहां एक-एक संक्रमित के कारण पूरा इलाका कंटेनमेंट व बफर जोन बना हुआ है। इससे यहां रह रहे लोगों को परेशानी है।

1- न्यू पाटलिपुत्र कॉलोनी रोड नंबर एक में एक छात्र कोरोना संक्रमित पाया गया। ठीक होकर घर भी आ गया, पर क्षेत्र आज भी प्रतिबंधित है।

2- मछली गली में 27 अप्रैल को एक महिला कोरोना संक्रमित पाई गई। वह भी अब निगेटिव हो गई है। इलाका अब भी प्रतिबंधित घोषित है।      

3- बेली रोड पर बीपीएसी के पीछे एक महिला 27 अप्रैल को कोरोना संक्रमित पाई गई। इसके बाद एक भी मामला इस मोहल्ले में नहीं आया, लेकिन पूरा इलाका सील है और प्रतिबंधित क्षेत्र का बोर्ड लगा है। 

4- रुपसपुर के धनौत में 22 अप्रैल को एक युवक कोरोना संक्रमित पाया गया। क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन बना दिया गया। युवक अब ठीक भी हो चुका है।

5- दानापुर के शंभू कुंडा में 28 अप्रैल को कोरोना संक्रमण पाया गया। इसके बाद कोई नया मामला सामने नहीं आया। लोग यहां जाने से डरते हैं। 

6- राजा बाजार के चाणक्यपुरी में 27 अप्रैल को एक युवती कोरोना संक्रमित मिली। रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद भी क्षेत्र प्रतिबंधित है। 

पटना में नौ नए मामले कोरोना के  आए सामने
शनिवार को पटना में संक्रमण के नौ नए मामले आए हैं। इनमें तीन दुल्हिनबाजार के प्रवासी हैं, जो मुम्बई से आए हैं। आलमगंज में दो और एक मालसलामी में कोरोना पॉजिटव मिला है। बिक्रम, मसौढ़ी और नौबतपुर में एक-एक मामला आया है। शनिवार को ही पीएमसीएच में छपरा के 48 वर्षीय भगवान राय की इलाज के दौरान मौत हुई है। शनिवार को रिपोर्ट आने से पहले ही उसकी मौत हो गई। यह प्रदेश की पहली ऐसी मौत है, जिसे कोरोना के साथ और कोई बीमारी नहीं थी। पॉजिटिव रिपोर्ट आते ही शव लेने छपरा से प्रशासन पटना पहुंच गया।

खाजपुरा में 21 संक्रमित स्वस्थ हो चुके हैं। एक बच्ची के कारण पूरा इलाका सील है। जब तक उसकी रिपोर्ट निगेटिव नहीं आती यही हाल रहेगा। 
- डॉ राज किशोर चौधरी, सिविल सर्जन

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:18 areas sealed due to 18 coronavirus infects in Patna Bihar